Breaking News

Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता Uttarakhand : पत्रकारिता के क्षेत्र में दिए जाने वाले उमेश डोभाल पुरस्कारों की घोषणा हुई,शोसल,इलेक्ट्रॉनिक,और प्रिंट मीडिया लिए चयनित हुए चार नाम,खबर @हिलवार्ता Special report : देहरादून के दो युवाओं ने बना दिया एक ऐसा सॉफ्टवेयर जो देगा अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर को टक्कर ,खबर @हिलवार्ता चंपावत उपचुनाव : पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत सीट से अपना पर्चा दाखिल किया, सुबह खटीमा में पूजा अर्चना के बाद पहुचे चंपावत खबर @हिलवार्ता Ramnagar : साहित्य अकादमी पुरस्कार से अलंकृत दुधबोली के रचयिता मथुरा दत्त मठपाल की पहली पुण्यतिथि पर जुटे साहित्यकार, कल होगी दुधबोली पर चर्चा,खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में तीन चार दिन से राजनीतिक खींचतान का फिलहाल अंत हो गया है विधायक दल की बैठक में खटीमा से दो बार के विधायक पुष्कर सिंह धामी के नाम पर मुहर लग गई । यानी उत्तराखंड में पुष्कर सिंह धामी अब इग्यारहवें मुख्यमंत्री होंगे ।

कांग्रेस से भाजपा में गए सतपाल महाराज कई साल से इस पद की बाट जोह रहे थे । जबकि धन सिंह रावत का नाम भी चर्चाओं में रहा है । लेकिन बाजी पुष्कर धामी के हाथ लगी ।

चार दिन पहले अचानक तीरथ सिंह रावत दिल्ली गए और उत्तराखंड में चल रही अटकलों का बाजार गर्म रहा । अपने केंद्रीय नेताओं से मिलने के बाद वापस आकर कल तीरथ सिंह रावत ने इस्तीफा सौंप दिया है । अचानक दिल्ली तलब किया जाना उसके बाद शीर्ष नेताओं से उनकी बातचीत में समय लगना फिर मुलाकात फिर रावत की बॉडी लैंग्वेज से आशंका सही साबित हुई । दिल्ली से वापस चलते ही रावत ने राज्यपाल बेबी रानी मौर्य से मिलने का समय मांगा था । मिलने का समय मांगने के बाद से स्पष्ट हो गया था कि तीरथ इस्तीफा देंगे । शाम इस्तीफा हुआ कारण स्पष्ट नहीं हुआ । प्रेस को अपने 115 दिन में हुए कार्यों का बखान कर रावत अचानक चले गए ।


10 मार्च 2021 को त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस्तीफे के बाद तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री बनाया गया था उनको 6 महीने के भीतर विधानसभा चुनाव लड़ना था । 10 सितंबर तक उपचुनाव के लिए तीरथ सिंह रावत बिगत दिनों कह चुके थे कि वह चुनाव में जाने को तैयार हैं लेकिन अचानक उनका दिल्ली जाने से अटकलें शुरू हो गई थी । हालांकि तीरथ को हटाने के पीछे संवैधानिक संकट बताया जा रहा है लेकिन यह साफ है कि उत्तराखंड में भाजपा में भारी गुटबाजी है । कई नेता तीरथ के खिलाफ दिल्ली सम्पर्क में थे और हाईकमान ने तीरथ को पद त्यागने को कहा होगा ।

बहरहाल केंद्रीय पर्यवेक्षक देहरादून आए विधायकों की अपराह्न बैठक हुई और घोषणा हो गई कि राज्य में अब पुष्कर सिंह धामी मुख्यमंत्री होंगे । जिन्हें आज ही शपथ दिलाई जाने की उम्मीद है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments