Breaking News

Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता Uttarakhand : पत्रकारिता के क्षेत्र में दिए जाने वाले उमेश डोभाल पुरस्कारों की घोषणा हुई,शोसल,इलेक्ट्रॉनिक,और प्रिंट मीडिया लिए चयनित हुए चार नाम,खबर @हिलवार्ता Special report : देहरादून के दो युवाओं ने बना दिया एक ऐसा सॉफ्टवेयर जो देगा अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर को टक्कर ,खबर @हिलवार्ता चंपावत उपचुनाव : पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत सीट से अपना पर्चा दाखिल किया, सुबह खटीमा में पूजा अर्चना के बाद पहुचे चंपावत खबर @हिलवार्ता Ramnagar : साहित्य अकादमी पुरस्कार से अलंकृत दुधबोली के रचयिता मथुरा दत्त मठपाल की पहली पुण्यतिथि पर जुटे साहित्यकार, कल होगी दुधबोली पर चर्चा,खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी : इन दिनों एक युवाओं का संगठन चर्चाओं में है नाम है पहाड़ी आर्मी । पहाड़ी आर्मी हाथ मे तिरंगा लेकर कई जगह प्रदर्शन कर रही है आर्मी की टैग लाइन है….

” पर्वतीय अस्मिता,संस्कृति और संसाधनों के रक्षक ”

पहाड़ी आर्मी की बाकायदा ड्रेस है जिसमे सफेद टी शर्ट में पहाड़ी आर्मी लिखवाया गया है । पहाड़ी आर्मी के संयोजक हरीश रावत का कहना है कि पहाड़ी आर्मी एक राज्य एक राजधानी जोकि गैरसैण होनी चाहिए के लिए जनमत जुटा रहे हैं । आर्मी की मांग है कि उत्तराखंड पर्वतीय राज्य है राज्य में बड़ी संख्या में बाहरी राज्यों और पर्वतीय क्षेत्र से लोग मैदानी क्षेत्रों में पलायन कर रहे हैं मैदानी जनसंख्या का घनत्व बढ़ा है ऐसे में अगर आगामी परिसीमन लागू होता है तो पर्वतीय राज्य की परिकल्पना ही खत्म हो जाएगी अतः पहाड़ी आर्मी परिसीमन को स्थगित करने की मांग कर रही है ।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता

रानीखेत में प्रदर्शन करते पहाड़ी आर्मी के सदस्य 

आर्मी का मानना है कि राज्य के संसाधनों की लूट रुकनी चाहिए जिसके लिए संसाधनों का शोधपरक वितरण एवं समायोजन आवश्यक है जिसे लागू किया जाना चाहिए । इसके अलावा पहाड़ी आर्मी हिमांचल की तर्ज पर राज्य में शख्त भू कानून की मांग कर रही है । इसके अलावा पर्वतीय क्षेत्र में उगाए जाने वाले पारंपरिक 12 अनाजों का संरक्षण की गारंटी, और जैविक कृषि की अनिवार्य योजना लागू करवाना । सुवर बंदरों और गायों के लिए पंचायत स्तर पर बाड़े की व्यवस्था सहित राज्य की नौकरियों में 70 प्रतिशत मूल निवासियों के लिए रोजगार और परिवार के एक व्यक्ति की नौकरी की गारंटी या 25000 रुपया आर्थिक सहायता की मांग मुख्य है ।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता

गठन के बाद से स्थायी राजधानी गैरसैण के लिए आर्मी देहरादून हल्द्वानी ऋषिकेश और रानीखेत में प्रदर्शन कर चुकी है । कल रानीखेत में प्रदर्शन के दौरान आर्मी के कार्यकर्ताओं ने सरकार का पुतला दहन किया और मांग की कि अविलम्ब स्थायी राजधानी की घोषणा की जाए ।
पहाड़ी आर्मी ने दावा किया है कि सभी तक उन्होंने 25000 लोगों से स्थायी राजधानी गैरसैण के लिए रायसुमारी की है । जिसे राज्य भर में फैलाया जा रहा है । रानीखेत प्रदर्शन में हर्षवर्धन जोशी, आयुष कुमार, कमलेश पांडे, गौरव जोशी, नितिन पांडे, सागर रावत,लकी गुप्ता, आफताब अंसारी, करण कुमार ,संजय आर्य, विनोद सनवाल, धीरज गढ़िया आदि लोग उपस्थित रहे ।

  1. हिलवार्ता न्यूज डेस्क 
यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता

 

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments