Breaking News

Doctor,s Day 1st july 2022 special report:”अग्रिम मोर्चे पर फैमिली डॉक्टर,थीम के साथ Doctor,s Day सेलिब्रेशन आज. डॉ एन एस बिष्ट का विशेष आलेख पढिये @हिलवार्ता Dehradun : धामी सरकार के 100 दिन पूरे, शिक्षा मित्र और अतिथि शिक्षकों का मानदेय बढ़ा,खबर@हिलवार्ता Uttrakhand:हिमांचल की तर्ज पर राज्य में ग्रीन सेस लगाए जाने की जरूरत, बेतहासा पर्यटक,धार्मिक टूरिस्म प्राकृतिक संसाधनों पर भारी,पढ़ें@हिलवार्ता Haldwani : प्रसिद्ध लोक साहित्यकार स्व मथुरा दत्त मठपाल स्मृति दो दिवसीय कार्यशाला 29-30 जून एमबीपीजी में,100 कुमाउँनी कवियों के कविता संग्रह का होगा विमोचन, खबर@हिलवार्ता Uttrakhand : मानसून ने दी दस्तक, राज्य के मैदानी क्षेत्रों में हल्की बारिश के बाद तापमान में गिरावट, मुनस्यारी ने तेज बारिश के बाद सड़क यातायात प्रभावित,खबर@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड पुलिस ने डीजीपी अशोक कुमार के निर्देश पर राज्य में अनूठी #मिशन_हौसला की शुरुवात की है जिसके लिए राज्य के 13 जिलों में टास्क फोर्स बनाई गई है ।

आइये जानते हैं क्या है ,# मिशन_हौसला
पिछले एक माह से हल्द्वानी सहित कई जगहों से प्रदेश के जागरूक नागरिकों द्वारा मरीजों की सहायता के लिए फेसबुक में सहायता मुहिम चलाई जा रही है जिसमे आवश्यक उपकरण, कोविड से उबर चुके मरीजों को प्लाज्मा डोनेशन के लिए प्रेरित किया जा रहा है । हल्द्वानी में चल रही मुहिम में बंदे मातरम ग्रुप, हल्द्वानी ऑनलाइन संस्था सहित कई सामाजिक लोग जुड़े हैं । सीओ लालकुआ /हल्द्वानी प्रमोद साह/ एसपी अमित श्रीवास्तव समेत कई अधिकारी इसका हिस्सा बने हैं प्लाज़मा डोनेशन के लिए प्रतिदिन फेसबुक व्हाट्सएप द्वारा चलाई मुहिम के सकारात्मक परिणाम देखते हुए इसी तरह की मुहिम राज्यभर में चलाए जाने की जरूरत महसूस की जा रही थी ।

राज्य के पुलिस प्रमुख डीजीपी अशोक कुमार ने अविलंब इस तरह की मुहिम को प्रदेश भर में लागू करने के लिए टास्क फोर्स गठित कर इसका नाम मिशन हौसला रखा गया है । टास्क फोर्स एक्टिव भी हो गई है ।

कोरोना के ख़िलाफ़ लड़ाई में उत्तराखंड पुलिस #मिशन_हौसला के तहत लोगों को दवाइयां, ऑक्सीजन, प्लाज्मा, राशन सहित हर ज़रूरी सेवा उपलब्ध करा रही है. इस मिशन के तहत प्रदेश सभी जनपदों में कोविड कन्ट्रोल रूम स्थापित किया गया है. उनके नोडल अधिकारियों के नंबर पर सम्पर्क कर किसी भी सहायता के लिए कह सकते हैं । मिशन के तहत कोविड कंट्रोल रूम का गठन किया गया है । जनपदवार नोडल अधिकारी भी नियुक्त किये गए हैं ।

सीओ/पुलिस अधीक्षक स्तर के अफसर को जनपद की कमान सौपी गई है

एक बात और गौतलब है कि उत्तराखंड पुलिस वाइफ वेलफेयर एसोसिएशन की तरफ से थानों में फल सब्जी कॉउंसलिंग की व्यवस्था की जा रही है । UPWWA उत्तराखंड में पुलिस अधिकारियों की पत्नियों द्वारा चलाया जा रहा संगठन है जिसकी मुखिया प्रदेश के डीजीपी की श्रीमती होती हैं । द्वारा भी कार्य शुरू कर दिया गया है ।

मिशन हौसला के तहत अभी तक पुलिस सहायता हेतु 3278 फोन काॅल प्राप्त हुए, जिन पर कार्यवाही करते हुए कुल 355 लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर, 216 लोगों को अस्पताल में बेड, 77 लोगों को प्लाज्मा डोनेशन, 4007 लोगों को दवाईयां, 86 लोगों को एंबुलेंस की सुविधा, 506 लोगों को राशन, सहित 202 कोरोना संक्रमितों का दाह संस्कार किया जा चुका है।

उत्तराखंड में बढ़ते हुए कोविड मामलों ने आम जन की चिंता बढ़ा दी है । राज्य की राजधानी सहित मैदानी जिलों में हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं । पर्वतीय जिलों में हालांकि अभी कम मामले सामने आए हैं लेकिन एक सप्ताह से अल्मोड़ा बागेश्वर रुद्रप्रयाग और पौड़ी में मामले बढ़े हैं । पर्वतीय जिलों में डॉक्टरों की कमी और अस्पतालों की जर्जर हालत भय पैदा करती है । चिकित्सकीय सुविधाओं के आभाव में पूर्व से ही देहरादून हरिद्वार ऋषिकेश हल्द्वानी उधमसिंह नगर के अस्पतालों में पहले से ही दबाव रहता है । कोविड केस बढ़ने से पर्वतीय क्षेत्र के मरीजों की भर्ती में यहां मुश्किल आ रही है । ऐसे में स्थानीय स्तर पर सुविधाओं की बाट जोह रही जनता के लिए उत्तराखंड पुलिस की “मिशन हौसला”से उम्मीद जगी है ।

@हिलवार्ता एडिटर डेस्क

, , , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments