Breaking News

उत्तराखंड: मूसलाधार बारिश से खतरा बढ़ा, कई सड़कें बंद, नदी-नाले उफनाए, पर्यटकों की हुई आफत, दिन भर की अपडेट@हिलवार्ता विशेष रपट: पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी, विशेष श्रद्धांजलि, कल है पूर्व कांग्रेसी नेता का जन्मदिन,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड :महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का प्रदेश भर के स्कूल बंद का आदेश जारी, 18 को सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूल बंद रहेंगे,पढ़िए@हिलवार्ता मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

कोविड कर्फ़्यू के चलते सीमांत जिले पिथौरागढ़ के धारचूला मुनस्यारी के भेड़, बकरी पालक परेशान हैं । कारण हजारों की संख्या में भेड़ों और बकरियों को चारा नही मिल पाना है ।

दरसल उच्च हिमालयी क्षेत्र में दिसंबर आखरी सप्ताह से ठंड और बर्फबारी की वजह से पशुपालक अपनी भेड़ बकरियों के साथ निचले इलाकों में चले आते हैं । अप्रैल से भेड़पालक अपने मवेशियों के साथ चारागाहों की तरफ माइग्रेट करते हैं । इस बार कोविड कर्फ़्यू की वजह से उन्हें इन क्षेत्रों में जाने में दिक्कत आ रही है ।
उच्च हिमालयी क्षेत्र में माइग्रेशन के लिए बुग्यालो में घास चरने के लिए जाने वाली धारचूला व मुनस्यारी के भेड़ व बकरियो के पालको को बीते साल की तरह कोविड इनर लाइन परमिट दिए जाने की मांग की है ।

बुग्यालों की ओर माइग्रेट करने वाली भेड़ें

मुनस्यारी से जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने आज जिलाधिकारी सहित कई अफसरो को इस आशय का पत्र लिखा है और कहा कि चैक पोस्ट पर सीमा पुलिस ने हजारो भेड़ बकरियो को रोक रखा है जिस वजह पशु और पालकों को संकट आन पड़ा है ।
मर्तोलिया ने बताया कि बीते साल की तरह कोविड संक्रमण के चलते आई.टी.बी.पी. तथा एस.एस.बी.के चैक पोस्ट इन भेड़ व बकरियो को चीन व नेपाल की सीमा से लगे घास के बुग्यालो में जाने से रोक रही है जिसके लिए उच्चाधिकारियों को पालकों और पशुवों को आगे जाने की अनुमति अविलंब देनी चाहिए ।

इनर पास के इंतज़ार में पशुपालक ।

बिगत वर्ष भी इसी तरह की परेशानी के बाद धारचूला व मुनस्यारी के उपजिलाधिकारियो द्वारा कोविड इनर पास जारी किया और समस्या का निपटारा हुआ था ।
जगत मर्तोलिया ने आज उपजिलाधिकारी धारचूला व मुनस्यारी, जिलाधिकारी व कुमांयू आयुक्त को पत्र लिखकर बीते साल की तरह कोविड इनर लाइन पास जारी करने की मांग की है। जिलापंचायत सदस्य ने कहा है कि स्थानीय प्रशासन के पास विगत वर्ष का डेटा मौजूद है जिसकी बिना पर इस साल भी इनर लाइन पास बनाकर लोगों को राहत दी जानी चाहिए । आयुक्त कुमायूं को भेजे पत्र में मर्तोलिया ने कहा है कि मसले का हल जल्द किया जाना चाहिए अन्यथा जानवरों और पशुपालकों के समक्ष चारे और खाने का संकट पैदा हो जाएगा ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments