Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी : राज्य के सबसे बड़े व्यापारिक शहर की संज्ञा से नवाजे शहर में कामलुवागंजा फीडर से जुड़े इलाकों में आज घण्टों  बिजली नदारद रही । हालांकि विभाग ने इस बात की सूचना पहले ही दी थी । लेकिन बिजली कटौती के समय को लेकर लोगों में नाराजगी वयक्त की है ।

लंबी कटौती के चलते व्यापारिक प्रतिष्ठानों के कम्प्यूटर बंद हो गए । नवरात्रों में मंदिरों घरों में घुप्प अंधेरा रहा बमुश्किल 7 बजकर 5 मिनिट में बिजली बहाल हुई । खबर लिखे जाने तक कई इलाके अभी भी बिजली के इंतजार में रहने की खबर है ।

इधर सायं कालीन रामलीलाओं का मंचन जोरों पर है नवरात्रि पूजन चल रहा है । सायंकाल पूजा अर्चना के समय बिजली चालू न होने से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा । लोग सवाल करते देखे गए कि विभाग के अधिकारी रिपेयर मेंटिनेंस का समय क्यों नही निश्चित कर सके ।

रामलीला स्थलों पर भी इसका असर न पड़े ,ऊँचापुल रामलीला कमेटी के सक्रिय सदस्य आनंद ने बताया कि देर तक बिजली सप्लाई की सूचना न होने पर  जेनरेटर की व्यवस्थाएं करनी पड़ी है  लेकिन जेनरेटर की भारी आवाज की वजह पात्रों के संवाद लोगों तक पहुचने में व्यवधान जरूर होगा ।  साथ ही पंडाल की व्यवस्थाओं पर असर पड़ेगा  इस बात का डर उन्हें परेशान कर रहा था ।

देश मे बिजली संकट गहराने की बात विगत दिनों से चर्चाओं में है  लोगों में यह भी चर्चा रही कि कहीं बिजली कटौती का आदेश ऊपर से न हो । बहरहाल  7 बजे बिजली बहाली हो सकी है । उमस भरी गर्मी में बिजली का इंतजार कर रहे लोगों ने अब जाकर लोगों ने राहत की सांस ली है । व्यापारियों और लोगों का कहना है कि उच्चाधिकारियों को कमसेकम किसी भी तरह के कार्य त्योहारी सीजन से पहले निपटा लेने चाहिए ।

कुसुमखेड़ा निवासी हरीश भट्ट ने विभाग से पूछा है कि आखिर साल भर से मेंटिनेंस का समय नहीं मिला बिभाग को ? कि त्योहारों में ही जरूरी है ।

 

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments