Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी । लेखक /पत्रकार स्व.आनन्द बल्लभ उप्रेती की याद में आयोजित समारोह में उत्तराखंड सहित देश के नामी साहित्यकार पत्रकारो ने शिरकत की । इस अवसर पर प्रसिद्ध समाज सेवी
जसुसी बूढ़ी शौक्याणी’ की धरोहरों को बचाने की अपील की गई।

Himalayan sangeet sodh sansthan students,@inaugral session

अपराह्न शुरू हुए इस समारोह में जसुली शौक्याणी की जीवन गाथा पर परिचर्चा हुई जिसमें वक्ताओं कहा कि उनका कार्य समाज के लिए प्रेरणा दायी है उन पर विस्तृत शोध की संभावनाएं भी है इस अवसर पर जसुली शौक्याणी द्वारा निर्मित धर्मार्थ धर्मशालाओं की सूची स्व उप्रेती द्वारा संपादित अखबार पिघलता हिमालय के माध्यम से लोगो को उपलब्ध कराया गया । ज्ञात रहे कि जसुली दताल जिन्हें जसुली शौक्याणी के नाम से जाना जाता है द्वारा अपने पति और पुत्र की मृत्युपरांत अपनी संपत्ति और जर जेवरात बेचकर उत्तराखंड नेपाल और तिब्बत यात्री मार्गों पर 400 धर्मशालाओ और नौलों का निर्माण कराया था । यह भारतवर्ष में किसी एक व्यक्ति द्वारा तत्कालीन समय मे कराया गया सबसे बड़े दान कार्य के रूप में विश्व विख्यात है ।

इस अवसर पर अलग अलग क्षेत्रो में उल्लेखनीय कार्य के लिए 9 महानुभावों को समान्नित भी किया गया जिसमे वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, चर्चित कथाकार ललित मोहन रयाल को उनके द्वारा संपादित साहित्य के लिए ‘गद्यश्री’ सम्मान से समान्नित किया गया ।

एवरेस्ट विजेता व साहसिक खेल में अपना लोहा मनवा चुकी सुमन कुटियाल, समसामयिक लेखन के लिए चर्चित पुलिस अधिकारी डीएसपी प्रमोद साह, सीमान्त क्षेत्र संवाद प्रेषक शैल सिंह, वरिष्ठ पत्रकार सोशल एक्टिविस्ट चंद्रशेखर जोशी, प्रिंट मीडिया में जनसरोकारी पत्रकारिता के लिए दैनिक हिंदुस्तान स्थानीय सम्पादक राजीव पाण्डे, ,खेल के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए डॉ नागेंद्र शर्मा, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में जनपक्षीय योगदान के लिए शैलेन्द्र नेगी एवं विज्ञान के क्षेत्र में विशेष योगदान हेतु युवाविज्ञानी डाॅ. गोपाल सिंह गौनिया को ‘आनन्दभूषण’ सम्मान दिया गया।

Lalit mohan rayal( writer, RFC kumayu)
Pramod sah (writer police officer,)
Chandrashekhar joshi (journalist)
Shelendra Negi( Journalist)
Shail singh (social worker)

समारोह में शहर के गण्यमान्य लोगों के बीच उच्चशिक्षा उन्नयन समिति के उपाध्यक्ष राज्यमंत्री डाॅ. बहादुर सिंह बिष्ट,पूर्व निदेशक उच्च शिक्षा प्रो. पी.सी.बाराकोटी, डॉ सी एस जोशी (खटीमा) प्रो०प्रयाग जोशी, प्रो०दीपा गोबाड़ी, प्रो० अतुल जोशी,नवीन वर्मा अध्यक्ष उद्योग व्यापार मंडल, फली सिंह दताल,रिटा.कमिश्नर जे.सी. पाण्डे, वरिष्ठ पत्रकार महेश पाण्डे ,चारु तिवारी, राजीव लोचन शाह, गणेश जोशी हरीश पंत,ओपी पांडेय,सुनील रौतेला,जगमोहन रौतेला,चित्रकार शमशाद, ट्रेकर प्रयाग रावत, डॉ मनोज उप्रेती, डाॅ.सन्तोष मिश्रा, दिनेश कर्नाटक,श्रीमती गीता उप्रेती, मीनाक्षी पांडेय ,डाॅ.जयश्री भण्डारी, डाॅ.चन्द्रा खत्री, डाॅ.आशा हर्बोला, डाॅ.देवयानी भट्ट, डाॅ. विमला सिंह, डाॅ. सुरेश टम्टा, डाॅ.एच एस.भाकुनी,पंकज पांडे, जोहार सांस्कृतिक वेलफेयर सोसाइटी के भूपेन्द्र पांगती, हरि स्मारक समिति के प्रेम सिंह जंगपांगी, प्रो. विपन उप्रेती, मल्ला जोहार विकास समिति मुनस्यारी के श्रीराम सिंह धर्मशक्तू, प्रो. जीसी जोशी, गोविंद नागिला, देव सिंह दरियाल, जमीन सिंह बोनाल, राम सिंह सोनाल, विशन सिंह गरब्याल, अनिमेष गरब्याल , मोहन सिंह दताल, विशन सिंह दताल, धीरेन्द्र गरब्याल, विमला दताल, सनम दताल, निसान दताल, राजेश्वरी सोनाली, सुकून गरब्याल सहित अनेक लोग शामिल हुए ।

हिमालयन शोध संगीत संस्थान के आचार्य धीरज उप्रेती निर्देशित संस्थान के छात्र छात्राएं ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देकर कार्यक्रम की शुरुवात की जिसमे सुगम संगीत भजन और होली गायन हुआ । प्रथम भट्ट, भाष्कर डालाकोटी, उत्कर्ष उप्रेती, यशवर्धन पाण्डे, आरोही भट्ट, अमितांशी जायसवाल, उन्नति भट्ट, भूमि, वर्खा, पार्थ, प्रसून जोशी, सार्थक पन्त, कुशाग्र जोशी, नव्या , अराध्य जोशी, अविरल साह, नमन पाण्डे, कमल जोशी, आयुष्मान सनवाल, प्रदीप रुवाली, पियूष जोशी, मुदिल अग्रवाल शामिल रहे ओर तबले में संगत में शुभम पोखरिया ने की।

आयोजन समिति की अध्यक्ष डॉ दीपा गोबाड़ी, सचिव डॉ पंकज उप्रेती संरक्षक भोला दत्त भट्ट ने आगंतुकों का आभार व्यक्त किया । कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रपति सम्मान प्राप्त उद्घोषक बिपिन चंद्र पांडे द्वारा किया गया ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता



, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments