Breaking News

बड़ी खबर : राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा अगर उत्तराखंड से वाकई प्रधानमंत्री को है प्यार तो राज्य विशेष राज्य का दर्जा दें, और भी है पत्र में मांग,पढिये@हिलवार्ता उत्तराखंड : कोविड के बढ़ते मामलों के बीच टीकाकरण की स्थिति पर एसडीसी की विस्तृत रिपोर्ट पढ़िए @हिलवार्ता उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में शिक्षक कर्मचारी मुख्य गेट बंद करने से भड़के, कहा विश्वविद्यालय है कैद खाना नही, नाराज शिक्षक कर्मचारियों ने की नारेबाजी, खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : सुप्रसिद्ध गायक नरेंद्र सिंह नेगी,अब डॉ नरेंद्र सिंह नेगी, हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय विश्वविद्यालय ने डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा, खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

नैनीताल: जिला मुख्यालय से 50 किमी दूर बेतालघाट ब्लॉक के सीम ग्राम सभा मे 18 अक्टूबर की रात हुई भारी बारिश में तीन मकानों को भारी क्षति पहुची है । घटगड तोक निवासी बालम सिंह पुत्र श्री करम सिंह का मकान पूरा क्षतिग्रस्त हो गया है ।जबकि दिवान सिंह पुत्र कुँवर सिंह, सुरेंद्र सिंह पुत्र अनोप सिंह के घरों में भारी नुकसान पहुचा है । दिवान सिंह की सस्ते गल्ले की दुकान में रखा लाखो रुपये की खाद्य सामग्री सहित राशन बर्बाद होने की सूचना है ।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा अगर उत्तराखंड से वाकई प्रधानमंत्री को है प्यार तो राज्य विशेष राज्य का दर्जा दें, और भी है पत्र में मांग,पढिये@हिलवार्ता

गांव के सामाजिक कार्यकर्ता हरीश सिंह पनोरा ने हिलवार्ता को बताया कि गांव में ग्राम प्रधान के चुनाव भी नही हो सके लिहाजा ताजा हालात की जानकारी देने के लिए ग्रामीणों के पास कोई जनप्रतिनिधि तक नही है । घटना की सूचना पट्टी पटवारी तक पहुचा दी गई है लेकिन शासन प्रशासन की तरफ़ से दो दिन बाद अभी आज 20 अक्टूबर 11 बजे प्रातः तक कोई भी अधिकारी नही पहुच पाया है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : सुप्रसिद्ध गायक नरेंद्र सिंह नेगी,अब डॉ नरेंद्र सिंह नेगी, हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय विश्वविद्यालय ने डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा, खबर @हिलवार्ता

*https://youtube.com/shorts/mk_SDfWooVY?feature=share*

हरीश सिंह ने बताया कि 18 की रात ढाई बजे स्थानीय छिपा गधेरा जो अमूमन सूखा रहता है उफना गया जब तक लोगों को सूचना मिली तब तक उक्त लोगों के घरों को काफी नुकसान पहुच चुका था । जानवरों को रात में बमुश्किल दूसरे सुरक्षित घरों में शिफ्ट किया गया । विद्युत आपूर्ति न होने के कारण पूरा गांव डरा सहमा रहा जैसे तैसे लोगों ने आपदा पीड़ित परिवारों की मदद कर हरीश जोशी, राजेन्द्र सिंह और हरीश सिंह के घरों में शिफ्ट किया ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में शिक्षक कर्मचारी मुख्य गेट बंद करने से भड़के, कहा विश्वविद्यालय है कैद खाना नही, नाराज शिक्षक कर्मचारियों ने की नारेबाजी, खबर@हिलवार्ता

पर्वतीय क्षेत्रों से धीरे धीरे आपदा की कहानी सामने आ रही है । गौरतलब है कि बेतालघाट के पास पड़ने वाले इस गांव में 72 घण्टे बीतने के बाद एक भी जनप्रतिनिधि तक नही पहुचा है । वगैर ग्राम प्रधान के इस गांव के लोग सरकारी जिम्मेदार लोगों का इंतजार कर रहे हैं कि कोई मदद उन तक पहुच पाए ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क की रिपोर्ट 

, , , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments