Breaking News

उत्तराखंड: मूसलाधार बारिश से खतरा बढ़ा, कई सड़कें बंद, नदी-नाले उफनाए, पर्यटकों की हुई आफत, दिन भर की अपडेट@हिलवार्ता विशेष रपट: पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी, विशेष श्रद्धांजलि, कल है पूर्व कांग्रेसी नेता का जन्मदिन,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड :महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का प्रदेश भर के स्कूल बंद का आदेश जारी, 18 को सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूल बंद रहेंगे,पढ़िए@हिलवार्ता मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने शनिवार (कल) राज्यों के स्वास्थ्य महकमे को त्योहारी सीजन में सतर्क रहने की हिदायत दी और नई गाइडलाइन के अनुसार कार्य करने की अपेक्षा की गई है ।

गाइडलाइन के अनुसार अगर किसी क्षेत्र को कंटेन्मेंट जोन बनाया गया है उस स्थान पर कोविड 19 के प्रोटोकॉल का शत प्रतिशत पालन किया जाए । साथ ही कहा है कि 5 प्रतिशत से अधिक मामलों वाले जिलों में कोई भी सामूहिक समारोह सभाएं न की जाए ।

जिन जिलों में 5 प्रतिशत से कम संक्रमण दर है ऐसे जिलों में सीमित लोगों को अग्रिम अनुमति के बाद ही सभा या समारोह की इजाजत दी जाए ।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता

कोविड संक्रमण के साप्ताहिक मामलों में पाजिटिविटी के आधार पर छूट और प्रतिबंध तय किए जाएं ।
राज्य प्रतिदिन की रिपोर्टिंग पर कड़ी नजर रखेंगे जिसके आधार पर कोविड गाइडलाइन की रूपरेखा और नियमों के पालन सुनिश्चित करेंगे ।
राज्यों से कहा गया है कि लोगों के ज्यादा मिलने जुलने को निरुत्साहित किया जाए । साथ ही आने जाने को भी शख्ती से कम किया जाना आवश्यक है ।

राज्यों से यह भी अपेक्षा की गई है कि वर्चुअल समारोहों और ऑनलाइन दर्शन के प्रावधान को प्रोत्साहित किया जाए ।साथ ही यह भी कि पुतला दहन, दुर्गा पूजा, छठ, डांडिया ,गरबा,जैसे धार्मिक सांस्कृतिक अनुष्ठान प्रतीकात्मक चाहिए ।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता

नई गाइडलाइन में आगामी त्योहारों विशेष कर पूजा स्थलों पर अलग प्रवेश और अलग निकासी सुनिश्चित करने प्रार्थना के वक्त एक चटाई,प्रसाद वितरण,जल छिड़काव जैसी चीजें न करने को कहा है ।
सभाओं और जुलूसों के लिए भी नियम बनाने की बात की गई है जिससे कि सीमित संख्या में लोगों का जमावड़ा हो ।

कोविड की कथित तीसरी लहर के संकेत हालांकि नहीं मिले हैं लेकिन गत सप्ताह से आंशिक बढ़ोतरी देखी गई है । केंद्र की स्वास्थ्य एजेंसियां भी आगामी लहर को लेकर एकमत नहीं है । लेकिन आशंका बरकरार है कि त्योहारों के चलते भीड़ भाड़ होना तय है । साथ ही कोविड प्रोटोकॉल को लेकर लापरवाही साफ देखी जा रही है ।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता

केंद्र से जारी आदेश में जारी हुए दिशा निर्देशों के बाद यह देखना दिलचस्प होगा कि 2022 चुनावों की तैयारियां भी जोर पकड़ रही हैं चुनावी जमावड़े, रैलियां, के बीच  कोविड की स्थिति को देखते हुए राज्यों की गाइडलाइन क्या होगी ।  इस पर सबकी नजर बनी रहेगी ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments