Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश के निधन के बाद कांग्रेस में इस पद के लिए दावेदारों के नाम को लेकर लगाए जा रहे कयासों पर विराम लगने की खबर है । सूत्रों के अनुसार उत्तराखंड में पार्टी अध्यक्ष प्रीतम सिंह नेता प्रतिपक्ष होंगे।

इंदिरा के निधन के बाद संगठन में कई तरह की चर्चाएं बिगत दिनों से चल रही थी सोशल मीडिया में खबरों में रानीखेत से विधायक करन मेहरा गोविंद सिंह कुंजवाल,मनोज रावत औऱ काजी निजामुद्दीन के नाम सामने आ रहे थे ।

एक सप्ताह पहले तक करन मेहरा का नाम आगे चल रहा था क्योंकि वह सदन में उपनेता प्रतिपक्ष भी हैं, बदली परिस्थितियों में करन मेहरा चूंकि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के करीबी हैं । अतएव करन का नाम चर्चाओं में अधिक रहा ।
रानीखेत से विधायक करन मेहरा,गोविंद सिंह कुंजवाल के अलावा कांग्रेस विधायक मनोज रावत, मंगलोर से विधायक काजी निजामुद्दीन के नाम पर भी चर्चा चलने लगी थी । इस हप्ते गणेश गोदियाल का नाम सबसे अधिक चर्चाओं में रहा,साथ मे किशोर उपाध्याय का नाम भी उछला ।

इंदिरा की तेरहवीं में शामिल नेताओं को आखिरी तक यह तय कर पाना मुश्किल लग रहा था कि कौन नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी पर विराजमान होगा चर्चाओं में रहे नेताओं में मेहरा और काजी निजामुद्दीन दोनों की राजनीतिक पृष्टभूमि गहरी है एक का केंद्रीय नेतृत्व से नजदीकी तो दूसरे का राज्य के नेताओं से अधिक नजदीकी की वजह गिनाई जा रही थी जबकि गोविंद सिंह कुंजवाल सीनियर होने के नाते उन्हें यह पद मिलने की बात हो रही थी ।

बताया जा रहा है कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने प्रीतम सिंह को इस पद पर बिठाने का फैसला किया है जिसकी आधिकारिक पुष्टि होना बांकी है। जिसके बाद नेता प्रतिपक्ष को लेकर चल रही चर्चाओं पर विराम लग जायेगा ।

इधर कांग्रेस संगठन में अब अध्यक्ष को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है । भाजपा कॉंग्रेस के लिए कुमायूं गढ़वाल मंडलों के राजनीतिक समीकरण और जातिगत समीकरणों को देखते हुए पदों का वितरण आम है हालांकि दोनों इस तरह के समीकरणों को नकारते हैं । माना जा रहा है कि अब कांग्रेस अध्यक्ष का पद कुमायूं के किसी नेता को दे सकती है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments