Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

अभी अभी नैनीताल हाईकोर्ट से बड़ी खबर आ रही है । कोर्ट ने कैदी की मौत के मामले में जांच ठीक से न करने की वजह नैनीताल की कप्तान और सीओ सहित जेलकर्मी 4 दोषियों को स्थानांतरित करने का आदेश दिया है ।

विगत 6 मार्च 2021 को हल्द्वानी उप कारागार में बंद कैदी प्रवेश कुमार की मौत मामले की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने सख्त रुख अख्तियार करते हुए नैनीताल जिले की कप्तान और सीओ के तत्काल स्थानांतरण का आदेश कर दिया है । आदेश में डीजीपी उत्तराखंड से तत्काल कार्यवाही को कहा है साथ ही मामला सीबीआई को देने की बात ज्ञात हुई है । विस्तृत खबर की प्रतीक्षा है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता


आज हुई सुनवाई जस्टिस मैठाणी की खंडपीठ में हुई । मामले में कोर्ट ने जांच पर हीलाहवाली देखते हुए यह आदेश किया है । दरअसल 6 मार्च को कुंडेश्वरी काशीपुर निवासी कैदी प्रवेश कुमार हल्द्वानी जेल में बंद था उसके परिजनों औऱ चश्मदीद राहुल श्रीवास्तव ने आरोप लगाया था कि कैदी की मौत पुलिस की मार लगने की वजह हुई । पुलिस ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने में देरी की ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता


ज्ञात रहे कि मार्च में विचाराधीन कैदी की स्थानीय कारागार में मौत हो गई थी परिजनों का आरोप था कि आरोपी की मौत पुलिसकर्मियों की मार की वजह से हुई । जबकि पुलिस इस आरोप को नकारती रही । मामले में चार जेलकर्मियों के खिलाफ एफआई आर कोर्ट के आदेश के बाद हुई थी । आज एसएसपी,सीओ को हटाने साथ ही कोर्ट ने आज आदेश में उक्त चारों जेलकर्मियों को जिले से बाहर भेजने का आदेश भी दिया है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता


हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments