Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी:

आशा हेल्थ वर्कर्स की देश व्यापी एकदिवसीय हड़ताल में उत्तराखण्ड आशा हेल्थ वर्कर्स यूनियन से जुड़ी आशाओं ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। महिला हॉस्पिटल के सम्मुख धरना प्रदर्शन करते हुए समान वेतन सहित 20 सूत्रीय मांग पत्र उपजिलाधिकारी हल्द्वानी कार्यालय के माध्यम से पीएम को भेजा गया जिसकी प्रतिलिपि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को भी भेजी गई।

उत्तराखण्ड आशा हेल्थ वर्कर्स यूनियन के धरने पर प्रदेश महामंत्री डॉ कैलाश पाण्डेय ने कहा कि, “हमारा देश आजादी के बाद, सबसे बड़ी स्वास्थ्य चुनौती का सामना कर रहा है- कोविड -19 महामारी ने हमारे देश की स्वास्थ्य प्रणाली की प्रमुख कमजोरियों को उजागर कर दिया है। स्वास्थ्य संकट और कुपोषण को दूर करने के लिए सरकारों के प्रयास पूरी तरह से सार्वजनिक क्षेत्र के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और आशा जैसे फ्रंटलाईन वर्कर्स पर निर्भर हैं। आशा वर्कर्स सरकार और लोगों के बीच की कड़ी है, पूरे देश में लगभग 10 लाख आशा वर्कर्स छुट्टी के बिना, चौबीसों घंटे ड्यूटी कर रही हैं; उन्हें घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने, कोविड संक्रमण मामलों की रिपोर्ट करने, टेस्ट करवाने, संक्रमितों को चिकित्सा सहायता प्राप्त करने में मदद, रोगियों की निगरानी करने, ठीक होने वाले व्यक्तियों का फॉलोअप आदि करने के लिए कहा जाता है। ये काम एक दिन में लगभग 8-9 घंटे की टीकाकरण ड्यूटी के अलावा हैं। लेकिन आशा समेत सभी स्कीम वर्कर्स को बिना न्यूनतम वेतन, बिना कर्मचारी के दर्जे के बहुत खराब कामकाजी परिस्थितियों में काम करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता

पांडे ने 45वें और 46वें भारतीय श्रम सम्मेलनों सहित विभिन्न मंचों की सिफारिशों के बावजूद, आशाओं को श्रमिकों के रूप में मान्यता नहीं दिया जाना अफसोसजनक है ।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता

Photo @ dhrana sthal haldwani

 

24 सितम्बर की एकदिवसीय राष्ट्रीय हड़ताल के धरना प्रदर्शन में महामंत्री पाण्डेय, रिंकी जोशी, रीना बाला, भगवती बिष्ट, सरोज रावत, दीपा बिष्ट, पुष्पलता, प्रीति रावत, तबस्सुम जहाँ, रेशमा, मुन्नी गजरौला, रेखा आर्य, नीमा, चम्पा मेहरा, यशोदा बोरा, माया टंडन, शहनाज, मीना केसरवानी, शहाना, अनिता देवल, ममता पपनै, चम्पा मंडोला, रेखा पलड़िया, अनुराधा, मोहिनी बृजवासी, बीना जोशी, अनिता सक्सेना, कंचन, लीला पठालनी, ममता आर्य, गंगा आर्य, मीना, रेनू दीप, हंसी उप्रेती, तारा देवी, सुनीता, हेमा रंगवाल, हेमा गैड़ा, माया साह, सावित्री आर्य, गंगा साहू, शांति नेगी, सावित्री अधिकारी, उमा दरमवाल, मंजू, पार्वती बिष्ट, अर्शी, भगवती बेलवाल, तारा थापा, कविता बिष्ट, पुष्पा जोशी, खष्टी जोशी, लता तिवारी, गोविंदी लटवाल, हंसी पडियार, शकुंतला धपोला, कविता भट्ट, गीता पाण्डे, भगवती फर्त्याल, दया पाण्डे, बीना उपाध्याय, रेखा मेहता,नंदी मेवाड़ी, विनीता मटियाली, खीमा बिष्ट, दीपा आर्य, कमला आर्य,रोशनी आर्य, हेमा पाण्डे, जानकी पलड़िया, मंजू देवका, मुन्नी दुर्गापाल, प्रेमा रौतेला, रेखा आर्य, खीमा देवी, मंजू बोरा, रेखा आर्य, दीपा देवी समेत बड़ी संख्या में आशाएँ सम्मिलित रहीं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

, , , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments