Breaking News

Big breaking: उत्तराखंड में चुनाव पूर्व सियासी ड्रामा चालू आहे । अब हरक सिंह रावत को पार्टी और केबिनेट से निकाले जाने की खबर : देर रात हुआ सब कुछ पढ़िए @हिलवार्ता BIG NEWS: लक्ष्य सेन इंडिया ओपन जीते, फाइनल में 24-22,21-17 से विश्व विजेता खिलाड़ी को दी शिकस्त,पूरी खबर @ हिलवार्ता Big Breaking : लक्ष्य सेन India Open Badminton 2022 के फाइनल में पहुँचे, विश्व चेम्पियन लोह किन यू से होगा मुकाबला : पूरी खबर @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022 : पर्वतीय क्षेत्रों में कम लोग कर रहे मतदान, 2017 का ट्रेंड जारी रहा तो कई दलों का चुनावी गणित होगा प्रभावित, विशेष रिपोर्ट @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022: हलद्वानी में मेयर डॉ जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ही होंगे भाजपा के खेवनहार, सूत्रों से खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

अल्मोडा 22 सितम्बर आज  उत्तरखण्ड लोकवाहिनी के पूर्व अध्यक्ष डा शमशेर सिह बिष्ट की तीसरी पुण्यतिथि अलमोड़ा में विभिन्न राजनीतिक सामाजिक आंदोलन से जुड़े लोगों ने शिरकत की ।

आज डॉ बिष्ट की पुण्यतिथि पर एक बड़ी खबर निकलकर सामने आ रही है । बताया जा रहा है कि यहां हुए कार्यक्रम में स्थानीय राजनैतिक दलो के बीच एकता पर सहमति बनी है जिसको अमली जामा पहनाने को जल्द पुनः एक बैठक आयोजित करने पर बल दिया गया है ।

डॉ बिष्ट की तीसरी पुण्यतिथि पर अलमोड़ा में आज ” भू कानून एवं क्षेत्रीय दलो की एकता की दरकार’ बिषय पर गोष्ठी रखी गई थी । गोष्ठी को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य.अतिथि उकांद के अध्यक्ष काशी सिह ऐरी ने कहा कि यूकेडी उत्तराखण्ड के वर्तमान हालात पर अपनी बात रखी । ऐरी ने कहा कि जिस प्रकार बंगाल मे केन्द्र की सत्ताधारी पार्टी क्षेत्रीय पार्टी के आगे धरासाई हो गई।  ऐसी ही जनचेतना का उभार उत्तराखण्ड मे भी आना जरूरी है । ऐरी ने कहा कि  बीस सालो मे जनता के साथ ठगी के शिवा कुछ नहीं हुआ ।

यह भी पढ़ें 👉  विधानसभा चुनाव 2022 : पर्वतीय क्षेत्रों में कम लोग कर रहे मतदान, 2017 का ट्रेंड जारी रहा तो कई दलों का चुनावी गणित होगा प्रभावित, विशेष रिपोर्ट @हिलवार्ता

गोष्ठी में मौजूद विभिन्न सामाजिक राजनीतिक लोग 

ऐरी ने कहा कि देश के किसी भी पर्वतीय राज्य में उत्तराखण्ड की तरह लूट नही देखी जा सकती है पर्वतीय क्षेत्रों में जमीनो की लूट चल रही है इसका कारण उत्तराखण्ड मे क्षेत्रीय राजनैतिक पार्टिया का सत्ता में नही आ पाना है । ऐरी ने डॉ बिष्ट की पुण्यतिथि पर क्षेत्रीय एकता की पहल सुखद अनुभव है ।

उपपा के अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि उत्तराखण्ड मे संघर्ष व समाधान के मुद्दो पर क्षेत्रीय दलो की एकता सम्भव है । राज्य में जिस तरह त्रिवेंद्र  सरकार ने भू कानून बनाया उससे राज्य के अस्तित्व पर संकट खड़ा हो गया है । तिवारी ने कहा कि वर्तमान मुख्यमंत्री द्वारा भू कानून के लिए समिति बनाना मुद्दे के लटकाने का प्रयास है जिसकी भर्त्सना जरूरी है ।

यह भी पढ़ें 👉  Big breaking: उत्तराखंड में चुनाव पूर्व सियासी ड्रामा चालू आहे । अब हरक सिंह रावत को पार्टी और केबिनेट से निकाले जाने की खबर : देर रात हुआ सब कुछ पढ़िए @हिलवार्ता

उलोवा के अध्यक्ष राजीव लोचन साह ने कहा कि राज्य में जिस तरह जमीनों की लूट का रास्ता प्रसस्त हुआ है उसे जल्द रोकना जरूरी है । साह ने कहा कि भूमि प्रबंधन राज्य का मामला है लिहाजा अविलम्ब सरकार इसे वापस ले । उन्होंने इस मामले सहित क्षेत्रीय एकता के लिए जल्द बैठने की बात की ।

उक्रांद के पूर्व विधायक नारायण सिंह ने कहा कि राज्य इन 21 सालों में परिसम्पत्तियों का बटवारा करने में नाकाम रहा है । उन्होंने कहा कि अभी तक राज्य का नेतृत्व जनमुद्दों की उपेक्षा करता आया है ।

यह भी पढ़ें 👉  विधानसभा चुनाव 2022: हलद्वानी में मेयर डॉ जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ही होंगे भाजपा के खेवनहार, सूत्रों से खबर @हिलवार्ता

उलोवा के जगत रौतेला,ने जहां क्षेत्रीय एकता पर जोर दिया वहीं डॉ हयात सिंह रावत ने राज्य में भाषायी दृढ़ता पर जोर देते हुए कहा कि भाषा एकीकरण के लिए बड़ा कारक सिद्ध होगी । यूकेडी के चंद्र शेखर कापड़ी सहित युवा संवाद के कुणाल तिवारी ,भाष्कर भौर्याल,बाल प्रहरी उदय किरौला, राम सिंह, बसन्त खनी,ईश्वरी दत्त ने अपने विचार साझा किए ।

आगंतुकों का डॉ बिष्ट के बेटे अजयमित्र ने सभी का आभार व्यक्त किया । गोष्ठी का संचालन पुरन चंद्र तिवारी और दया कृष्ण कांडपाल ने संयुक्त रूप से किया ।  कार्यक्रम मे जंगबहादुर थापा शमशेर जंग गुरुंग , रेवती बिष्ट , कुणाल तिवारी व यू केडी के भानु जोशी, शिवराज बनौला , गिरीश लाल साह आप के अमित जोशी , नन्दलाल साह अखिलेश टम्टा सहित बडी संख्या मे लोग उपस्थित रहे । जनगीतों के साथ गोष्ठी का समापन हुआ ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments