Breaking News

Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता Uttarakhand : पत्रकारिता के क्षेत्र में दिए जाने वाले उमेश डोभाल पुरस्कारों की घोषणा हुई,शोसल,इलेक्ट्रॉनिक,और प्रिंट मीडिया लिए चयनित हुए चार नाम,खबर @हिलवार्ता Special report : देहरादून के दो युवाओं ने बना दिया एक ऐसा सॉफ्टवेयर जो देगा अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर को टक्कर ,खबर @हिलवार्ता चंपावत उपचुनाव : पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत सीट से अपना पर्चा दाखिल किया, सुबह खटीमा में पूजा अर्चना के बाद पहुचे चंपावत खबर @हिलवार्ता Ramnagar : साहित्य अकादमी पुरस्कार से अलंकृत दुधबोली के रचयिता मथुरा दत्त मठपाल की पहली पुण्यतिथि पर जुटे साहित्यकार, कल होगी दुधबोली पर चर्चा,खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

लोकसभा चुनाव 2019.तीसरे चरण का मतदान कल 23 अप्रैल को होना है 14 राज्यों की 115 सीटों के लिए 1612 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं जिनके भाग्य का फैसला कल यहां की जनता करेगी ।तीसरे चरण में हो रहे  115 सीटों के लिए 23 अप्रैल यानी कल मंगलवार वोटिंग होनी है  जिसमे आसाम की 4, बिहार की 5, छत्तीसगढ़ 7,दादरा नगर हवेली  1,जम्मू कश्मीर  1,गुजरात 26,गोआ 2,दमन दीव 1,पश्चिम बंगाल  5,उत्तर प्रदेश  10,उड़ीसा  6, महाराष्ट्र  14,केरल 20,और कर्नाटक की 14 सीटों के लिए मतदान होगा ।
तीसरे चरण का मतदान लोकसभा की तस्वीर साफ करने के लिहाज से महत्वपूर्ण माना जा रहा है 2014 लोकसभा चुनावों में तीसरे चरण वाले राज्यो जिनमे यूपी महाराष्ट्र गुजरात से भाजपा की झोली में खूब मत पड़े इसी कारण भाजपा को 282 और एनडीए को 336 सीटें मिली थी ।
गुजरात महाराष्ट्र यूपी की सीटों से बीजेपी को पुनरावृत्ति की उम्मीद है वहीं पिछली बार बुरी पिटी कांग्रेस,अपने प्रदर्शन को ठीक करने की मंशा से उतरी है,इधर यूपी की 10 सीटों पर कल हो रहे चुनाव में महागठबंधन भाजपा का रथ रोके जाने के लिए जोर आजमाइश कर रहा है वहीं महाराष्ट्र में भाजपा शिवसेना गठबंधन एनडीए को 2014 की तरह के जनसमर्थन की उम्मीद में है, इसी तरह के समीकरण दक्षिणी राज्यों और नॉर्थईस्ट से हैं जहां गठबंधन किसी की तरफ हवा मोड़ने में शामिल दिखते हैं।
केरल बंगाल उड़ीसा कर्नाटक बिहार में हो रहे तीसरे चरण का मतदान  देश की राजनीतिक दिशा तय करने वाला माना जा रहा है इस चरण में जो भी दल मतदातों को अपने पक्ष में कर लीड लेगा, उसका केंद्र की राजनीति में महत्वपूर्ण रोल होगा । माना जा रहा है कि कल 23 अप्रैल को तीसरे फेज में सबसे अधिक सीटों पर हो रहे मतदान के बाद लोकसभा की तस्वीर स्पष्ट होने लगेगी ।
ओपीपाण्डेय
@हिलवार्ता एडिटर्स डेस्क