Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

देश को 15वां राष्ट्रपति मिल गया है । एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को आधिकारिक तौर पर विजेता घोषित किया गया है. रिटर्निंग ऑफिसर और राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी ने विजेता घोषित किया. राष्ट्रपति चुनाव में कुल वोट 4754 पड़े जिसमें से द्रौपदी मुर्मू को 2824 वोट मिले जिनका मूल्य 676803 है । जबकि यशवंत सिन्हा को 1877 वोट मिले. जिनकी वैल्यू 380177 रही.कुल मिलाकर द्रौपदी मुर्मू को 64 प्रतिशत जबकि सिन्हा को 36 प्रतिशत मत प्राप्त हुए ।

एनडीए की लामबंदी को देखते हुए मुर्मू की जीत की संभावना पहले से जताई जा रही थी। अब द्रौपदी ने जीत हासिल कर ली है। उनकी जीत के बाद विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति उम्मीदवार यशवंत सिन्हा ने बधाई दी है।

राष्ट्रपति चुनाव मतगणना एक जटिल प्रक्रिया है जिसमें सर्वप्रथम जनप्रतिनिधि के वोट वैल्यू का निर्धारण उसके निर्वाचन क्षेत्र की जनसंख्या के आधार पर किया जाता है। विधायक के वोट का मूल्य निकालने के लिए उस राज्य की कुल जनसंख्या में कुल विधायक का भाग दिया जाता है ,तत्पश्चात उस संख्या में 1000 का भाग दिया जाता है । इसके बाद जो संख्या आती है, वह उस राज्य के विधायक का वोट मूल्य होता है । वहीं, सांसद के वोट का मूल्य सभी राज्यों के विधायकों के वोटों के कुल मूल्य में संसद सदस्यों का भाग दिया जाता है. इसके बाद जो संख्या आती है,वह सांसद के वोट का मूल्य माना जाता है । इस तरह सभी राज्यों के वोटर्स का मत वैल्यू प्राप्त कर मतगणना को अंजाम दिया जाता है ।मतगणना ने मिले मत के मूल्यांकन और प्राप्त वोटों के मूल्य में सबसे पहले कोटा पाने वाला उम्मीदवार विजयी माना जाता है ।

आदिवासी समाज से आने वाली द्रौपदी मुर्मू देश की पहली आदिवासी महिला बन जो सर्वोच्च पद पर पहुँची हैं । उनके गृहनगर रायरंगपुर में जश्न का माहौल है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क