Breaking News

बड़ी खबर : पीएम की रैली कल देहरादून में, राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा अगर उत्तराखंड से वाकई प्रधानमंत्री को है प्यार, विशेष राज्य का दर्जा लौटाएं कल, और भी हैं मांग ,पढिये @हिलवार्ता उत्तराखंड : कोविड के बढ़ते मामलों के बीच टीकाकरण की स्थिति पर एसडीसी की विस्तृत रिपोर्ट पढ़िए @हिलवार्ता उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी में शिक्षक कर्मचारी मुख्य गेट बंद करने से भड़के, कहा विश्वविद्यालय है कैद खाना नही, नाराज शिक्षक कर्मचारियों ने की नारेबाजी, खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : सुप्रसिद्ध गायक नरेंद्र सिंह नेगी,अब डॉ नरेंद्र सिंह नेगी, हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय विश्वविद्यालय ने डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा, खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी के 18 अक्टूबर को जन्मदिवस के अवसर पर ,निरंतर विकास समिति द्वारा स्थानीय सुशीला तिवारी मेडिकल कालेज में श्रद्धांजलि कार्यक्रम रखा गया है । कार्यक्रम संयोजक मोहन पाठक ने बताया कि श्रद्धांजलि सभा 11 बजे होगी । वहीं कांग्रेस ने उनके जन्मदिन पर स्मृति यात्रा का आयोजन किया है ।

स्व. तिवारी का जन्म 18अक्टूबर 1925 में नैनीताल जिले के बल्यूटी गांव में हुआ, स्व.तिवारी की प्रारंभिक शिक्षा हल्द्वानी नैनीताल और बरेली में हुई। तिवारी उच्च शिक्षा के लिए इलाहाबाद चले गए उन्होंने राजनीति शास्त्र में एम ए किया पढ़ाई के साथ साथ वह आजादी आंदोलन में भी शामिल रहे । 1947 में इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्र राजनीति में सक्रिय रहे और छात्र संघ अध्यक्ष चुने गए ।

यह भी पढ़ें 👉 

इलाहाबाद विश्वविद्यालय से ही उन्होंने एलएलबी की डिग्री हासिल की और सक्रिय राजनीति में पदार्पण किया, प्रजा शोशलिस्ट पार्टी के सदस्य बने ।1950 में नैनीताल सीट उन्होंने प्रजा सोशलिस्ट पार्टी से चुनाव लड़ा । कांग्रेस के खिलाफ जीत हासिल कर अपने लंबे राजनीतिक जीवन की पटकथा लिखी ।
1963 में वह कांग्रेस में शामिल होकर 1965 में काशीपुर से चुनाव लड़े और विजयी हुए । 1976 में पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने । अल्पकाल में ही उन्हें इस पद पर संतोष करना पड़ा ।
तिवारी उत्तर प्रदेश के तीन बार मुख्यमंत्री रहे उन्होंने उत्तराखंड राज्य बनने के बाद 2004 में राज्य की कमान सम्हाली ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : सुप्रसिद्ध गायक नरेंद्र सिंह नेगी,अब डॉ नरेंद्र सिंह नेगी, हेमवती नंदन बहुगुणा केंद्रीय विश्वविद्यालय ने डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा, खबर @हिलवार्ता

सिडकुल औद्योगिक संस्थान विकसित करने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही । हालांकि सिडकुल निर्माण के लिए हजारों एकड़ बेशकीमती जमीन पूंजीपतियों को बांट देने के लिए उन पर विपक्षियों ने खूब आरोप लगाए । साथ ही उनके द्वारा घोषित स्थानीय लोगों को 70 प्रतिशत रोजगार की गारंटी भी एक शिगूफा बनकर रह गई ।

आज शाम होते होते सूबे के मुख्यमंत्री ने पूर्व मुख्यमंत्री के नाम से पंतनगर औद्योगिक संस्थान का नाम से रखने की घोषणा कर विशेष श्रद्धांजलि दी है  । अब पंतनगर इंडस्ट्रियल एस्टेट पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के नाम से जाना जाएगा । कल 18 अक्टूबर को नारायण दत्त तिवारी का जन्मदिन है। नारायण दत्त तिवारी के जन्मदिन पर कल उनके समर्थकों द्वारा स्थानीय सुशीला तिवारी मेडिकल कालेज मे आयोजित कार्यक्रम  से पहले आज शाम सूबे के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने एलान किया कि पंतनगर स्थित sidcul को वह उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे पूर्व मुख्यमंत्री के नाम करने जा रहे हैं । धामी ने कहा कि नारायण दत्त तिवारी किसी भी दलगत राजनीति से उपर थे, उनका उत्तराखंड के विकास में विशेष योगदान रहा है ।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर : पीएम की रैली कल देहरादून में, राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा अगर उत्तराखंड से वाकई प्रधानमंत्री को है प्यार, विशेष राज्य का दर्जा लौटाएं कल, और भी हैं मांग ,पढिये @हिलवार्ता

हिलवार्ता न्यूज डेस्क की रिपोर्ट 

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments