Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -


कुमायूं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो डीके नौरियाल ने उत्तराखंड की राज्यपाल सुश्री बेबी रानी मौर्य को पत्र लिखकर इस्तीफे की पेशकश की है प्रो नौरियाल आई आई टी रुड़की में सेवारत रहे हैं दो साल पहले उन्हें कुमायूँ विश्वविद्यालय का कुलपति बनाया गया.
दरसल आई आई टी रुड़की में प्रोफेसर नौरियाल को जो आवास मिला है उस पर से उन्हें आई आई टी प्रशासन हटाना चाहता है कुलपति चाहते हैं कि उनको आई आई टी रुड़की, कुमायूँ विश्वविद्यालय के वीसी का कार्यकाल खत्म होने तक उस आवास से न हटाये ,मामला राज्यपाल महोदया तक पहुचा लेकिन आई आई टी प्रशासन ने उनकी भी नहीं मानी.
देहरादून गए कुलपति ने फ़ोन पर बताया कि उनका पूरे सेवाकाल का घरेलू सामान सब उसी आवास में है अगर उन्हें वहां से हटा कर बाहर कहीं शिफ्ट भी किया जाय तो 10 माह बाद उन्हें अपने पूर्व के पद पर रुड़की ही जाना होगा तब उन्हें आवास की दिक्कत होगी इसलिये उन्होंने इस्तीफे की पेशकश की है प्रोफेसर नौरियाल ने कहा कि उनकी आई आई टी रुड़की में 2022 तक सेवाएं हैं इसलिए उनके लिए आवास का मसला हल होना जरूरी है .
कुलपति का कुमायूं विश्वविद्यालय में 10 माह का कार्यकाल बचा है यही कारण है कि उनको 10 माह बाद आई आई टी में मिले आवास के इतर कोई अन्य आवास आबंटित भी हो तो वह उनके पद के अनुरूप होगा कि नहीं यह भी संसय प्रोफेसर नौरियाल को बना हुआ है अब राज्यपाल उनके इस्तीफे पर क्या प्रतिक्रिया देती है देखना होगा.
प्रो नौरियाल ने बताया कि इस बाबत राज्यपाल महोदया भी आई आई टी रुड़की को पत्र लिख चुकी हैं लेकिन आई आई टी नहीं मानी अब दुबारा राजभवन आई आई टी और प्रो नौरियाल के बीच आवास का मसला हल कर पाती है या नौरियाल का इस्तीफा स्वीकार करती है इस मसले पर हमारी नजर बनी हुई है.

हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@ hillvarta. com

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता