Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

यू जी सी द्वारा संचालित टीचर्स के लिए ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स आवश्यक है उसी तर्ज पर अब स्कूली शिक्षक को भी निष्ठा प्रशिक्षण लेना आवश्यक है । आइये इस कोर्स के बारे समझते हैं ..

1 अक्टूबर 2021स्कूली टीचर्स के लिए NCERT और SCERT द्वारा संचालित निष्ठा प्रशिक्षण चल रहा है । जिसे स्थानीय स्तर पर विद्यालयी शिक्षा विभाग संचालित कर रहा है प्रशिक्षण कार्यक्रम में NCERT द्वारा तय विषय की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित होती हैं । निष्ठा प्रशिक्षण को अनिवार्य रूप से पूरा करना हर अध्यापक के लिए जरूरी है ।
2020 में नई शिक्षा नीति के तहत लाया गया है । निष्ठा प्रशिक्षण केंद्र सरकार का मुफ्त प्रशिक्षण प्रोग्राम है योजना के अंर्तगत देश के लगभग 42 लाख शिक्षकों को प्रशिक्षण देने का प्रावधान है । निष्ठा यानी नेशनल इनिशिएटिव फॉर स्कूल हेड्स एंड टीचर्स होलिस्टिक एडवांसमेंट के तहत उत्तराखंड के विभिन्न सेंटर्स पर आजकल यह कार्यक्रम चल रहा है । अलमोड़ा जिले में हवालबाग ब्लॉक् में अभी तक प्रशिक्षण का ब्यौरा पेश किया है ।

सेंटर के तकनीकी समन्वयक राजेश बिष्ट और कपिल नयाल ने सूचना साझा करते हुए बताया कि उनके सेंटर पर प्रशिक्षणार्थी प्रधानाचार्य ,अध्यापकों ,और प्रवक्ताओं की कुल संख्या 460 है जिनमे कुल प्रधानाचार्य 13 प्रवक्ता 190, और शिक्षक 250 हैं । 13 अक्टूबर 2021 तक कुल 6 प्रधानाचार्य, 190 प्रवक्ता और 235 शिक्षक ऑनलाइन प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हैं । कपिल नयाल ने बताया कि कुछ अध्यापक अस्वस्थ्य होने की वजह सम्मिलित नहीं हो सके हैं उन्हें जनवरी में इस प्रशिक्षण को पूरा करना होगा ।

राजेश बिष्ट ने बताया कि अक्टूबर माह के लिए निर्धारित तीन कोर्सेज के लिए पंजीकरण पूर्ण हो गया है समन्वयक द्वय ने सभी से अक्टूबर तक कोर्स पूर्ण कर लेने की बात की है । ज्ञात रहे कि निष्ठा प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षार्थी को सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है । बताया जा रहा है कि इस प्रशिक्षण सर्टिफिकेट अकादमिक स्कोर के लिए  आवश्यक है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

, , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
1 Comment
Inline Feedbacks
View all comments
गोविन्द गोपाल
गोविन्द गोपाल

हमारे देश में एक तरफा योजना सभी कर्यक्रमों में लागू रहती है . अब इस निष्ठा प्रशिक्षण को ही ले लीजिये . अभिभावकों को कोई नहीं बता रहा कि उनके अध्यापकों को कौन सी ये ट्रेनिंग किस लिए दी जा रही है !!?? सबसे यही आशा की जा रही है कि वे नयी शिक्षा नीति पढ़ कर जान लें, जबकि एक पंक्ति में ये सम्बंधित संस्था द्वारा बता देनी चाहिए .कि ये निष्ठा प्रशिक्षण किस उद्देश्य के लिए है . ये अवश्य है कि कई अध्यापकों की निष्ठा ही गायब है अपने व्यवसाय के प्रति!!! जिसके चलते निष्ठावान अध्यापकों को काम करते समय स्कूल परिसर में बहुत समस्या होती है . प्रश्न तो ये है कि ये निष्ठा जिसका प्रशिक्षण दिया जा रहा है ये कौन सी निष्ठा है ? इसका विवरण न तो इस समाचार में है न इस का विवरण सम्बन्धित संस्था बता रही है . इससे क्या प्राप्त होगा? प्रेस विज्ञप्ति में येभी कही पढ़ने को नहीं मिल रहा है !!! ऐसा अभिभावकों का मत है . कृपया नोटिस लें .धन्यवाद .