Breaking News

Big Breaking : लक्ष्य सेन India Open Badminton 2022 के फाइनल में पहुँचे, विश्व चेम्पियन लोह किन यू से होगा मुकाबला : पूरी खबर @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022 : पर्वतीय क्षेत्रों में कम लोग कर रहे मतदान, 2017 का ट्रेंड जारी रहा तो कई दलों का चुनावी गणित होगा प्रभावित, विशेष रिपोर्ट @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022: हलद्वानी में मेयर डॉ जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ही होंगे भाजपा के खेवनहार, सूत्रों से खबर @हिलवार्ता पिथौरागढ़ : 11 माह पहले सेना भर्ती के लिए मेडिकल फिजिकल पास कर चुके युवा लिखित परीक्षा न होने से परेशान, पूर्व सैनिक संगठन से मिले कहा प्लीज हेल्प, खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : विधानसभा चुनाव नामांकन में 15 दिन शेष, समर्थक बेचैन, उम्मीदवारों का पता नहीं, सीमित समय में चुनावी कैम्पेन से असल मुद्दों के गायब होने का अंदेशा,क्यों और कैसे, पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

·खूब भीड़ भाड़,चारो तरह ट्रैफिक,ट्रैफिक जाम,लेकिन ऐसा क्या हुआ कि अचानक सड़क खाली खाली है जी हां यही हो रहा है पिछले तीन चार दिन से हल्द्वानी में,ऐसा अक्सर तब दिखने में आता है जब कभी साप्ताहिक अवकाश हो या साप्ताहिक बाजार बंदी हो,लेकिन बिना किसी अवकाश/साप्ताहिक बंदी यही नजारा है,इसका कारण गर्मी है इतनी गर्मी जो मई 15 तारीख के बाद से अमूमन होती ही है यह सब अप्रैल में ही हो रहा, बस इसी वजह सड़कें सुनसान हैं.

उत्तराखंड सहित देश के कई हिस्सों में बिगत तीन दिन से अचानक गर्मी का बढ़ गई है इसी वजह लोग घरों से निकलने से बच रहे हैं,यहीं नहीं इस बार देश मे पारा कई हिस्सों में अप्रैल से ही पसीने छुटा रहा है, मध्यप्रदेश के कई इलाकों में पारा 44 डिग्री के आसपास पहुच गया है वहीं मौसम विभाग की माने तो गर्मी का कहर अभी जारी रहने वाला है.

उत्तराखंड के हरिद्वार देहरादून उधमसिंह नगर रुड़की हल्द्वानी तराई भाभर में पारा 40 डिग्री के आसपास पहुच गया है वहीं पहाड़ों में भी 27 से 32 डिग्री तक पारा रिकॉर्ड हुआ है,बताया जा रहा है कि पहाड़ों में भी 2 से 3 डिग्री के आसपास पारा बढ़ने से गर्मी होने लगी है.
तराई भाभर में गर्मी की शुरूवात जिस तरह से हुई है माना जा रहा है कि मई जून तक यह बढ़ोतरी लोगों के लिए परेशानी पैदा करने वाली है,ट्यूबवेल के सहारे अधिकतर शहर में पानी सप्लाई हो रही है बढ़ी हुई गर्मी में पानी का संकट गहरा सकता है,शहर में बिजली की अचानक खपत बढ़ने से पानी बिजली की दिक्कत होने का अंदेशा लगाया जाने लगा है.
·बिजली पानी की मांग और खपत में अंतर को पाटने में विभाग नाकाम रहे हैं इस बार चूंकि गर्मी का प्रकोप जल्दी शुरू हुआ है इसी वजह उत्तराखंड में दोनो विभागों जलसंस्थान और विद्युत विभाग के लिए इस चुनोती से निपटना आसान नहीं होगा.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta. com