Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

देश भर के बारहवीं के बच्चों और अभिवावको की नजर आज दिल्ली पर थी । जहां शिक्षा मंत्री के साथ राज्यों के शिक्षा मंत्रियों,बोर्ड सचिवों सहित अलग अलग बोर्डो के अध्यक्षों के साथ हुई बैठक हुई । बैठक को लेकर छात्र छात्राओं सहित अभिवावकों में भारी उत्सुकता थी लेकिन बैठक के बाद कोई स्पष्ट निर्णय नही हो पाया है ।

बारहवीं के छात्र छात्राओं को अब 25 तारिख को राज्यों से मिलने वाले फीडबैक के बाद ही पता चल पाएगा कि परीक्षाएं कब होंगी ।

आइये जानते हैं आज क्या हुआ बैठक में ।

आज हुई बैठक में अध्यक्षता रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने की ।जिसमे बताया गया गया है कि कोविड काल मे व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षाओं की प्रकिर्या, समयावधि पर चर्चा हुई । बैठक के बाद शिक्षा मंत्री ने प्रेस नोट में कहा है कि विद्यार्थियों की सुरक्षा एवं अकादमिक कल्याण और शिक्षा प्रणाली का सुचारू संचालन सुनिश्चित करने के लिए पूरा देश एकजुट हो गया है । बहरहाल आज बैठक से कोई संकेत बाहर नही आया कि आखिर सर्वानुमति क्या है ।
शिक्षा मंत्री ने कहा कि कोविड के मद्देनजर 10वीं की परीक्षाएं रद्द कर आंतरिक आकलन के माध्यम से मूल्यांकन किया जा रहा है लेकिन एक विद्यार्थी के भविष्य निर्धारण के लिए 12वीं कक्षा की परीक्षाएं काफी महत्वपूर्ण हैं, आज हुई बैठक में विभिन्न विकल्प तलाशने पर विचार हुआ है और कहा कि बैठक में सभी हितधारकों के साथ हुए विचार विमर्श से विद्यार्थियों के हित मे फैसला लेने में सहायता मिलेगी ।


बैठक में परीक्षाओं कब कैसे कहाँ पर बातचीत हुई है लेकिन अभी स्पष्ट कुछ भी नही कहा गया है । यब बताया गया है कि इन संदर्भों में विकल्पों पर चर्चा हुई साथ ही यह भी बताया गया है कि बोर्डों की सहमति के वावजूद राज्य और केंद्र शासित राज्य विचार विमर्श कर सकते हैं और यह भी कि 25 मई तक लिखित में अपना फीडबैक भेज सकते हैं ।

ज्ञात रहे कि पिछले माह 14 अप्रैल को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने सूचना दी थी कि 10वीं की परिक्षाएं रद्द जबकि 12वीं की स्थगित की जा रही है । पूर्व में कहा गया था कि 12 वीं की परीक्षाओं के संदर्भ में 1 जून की बैठक में निर्णय होगा ।
आज हुई बैठक के बाद 12 वीं की परीक्षाओं को लेकर कोई स्पष्ट संकेत नही है । अपने प्रेस रिलीज ने केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने इतना जरूर कहा है कि आज की बैठक और इस हप्ते में राज्यो बोर्डो से मिलने वाले सुझावों के तुरंत बाद स्टूडेंट्स को सूचना दे दी जाएगी । यानी कि राज्यो का फीडबैक ही अब निर्णय का सूत्र होगा ।

इस बीच #कैन्सिलबोर्ड एग्जाम्स कंपेन जारी है आज भी जब मंत्री समूह की बैठक चल रही थी #Cancilboardexms, ट्रेंड कर रहा है । सुप्रीम कोर्ट में जहां इसे रद्द करने के लिए याचिका डाली गई है वही परीक्षा कराने को लेकर भी एक याचिका दायर की गई है । परीक्षाओं को लेकर एक्सपर्ट भी बटे हुए दिखते हैं वावजूद कि कोविड के मामलों और ब्लैक फंगस की आमद के बीच परीक्षा आखिर ऑफ़लाइन कैसे होगी । बहरहाल यह तय करना सरकार का काम है जो आज तय कि नहीं हुआ जिसके लिए कुछ समय और इंतजार करना होगा ।

कोविड के इस दौर में जहां बच्चे डरे सहमे हैं ऐसे में उन्हें असमंजस की स्थिति ज्यादा देर तक रखना तर्कसंगत नही होगा ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

, , , , , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments