Breaking News

Big Breaking : गुरुग्राम में हुई सीए की गिरफ्तारी के विरोध में हलद्वानी के चार्टर्ड अकाउंटेंट मुखर,सीबीआइसी को ज्ञापन सौंपा,जीएसटी रिफण्ड का है मामला,पढ़े @हिलवार्ता Uttarakhand : पत्रकारिता के क्षेत्र में दिए जाने वाले उमेश डोभाल पुरस्कारों की घोषणा हुई,शोसल,इलेक्ट्रॉनिक,और प्रिंट मीडिया लिए चयनित हुए चार नाम,खबर @हिलवार्ता Special report : देहरादून के दो युवाओं ने बना दिया एक ऐसा सॉफ्टवेयर जो देगा अंतरराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर को टक्कर ,खबर @हिलवार्ता चंपावत उपचुनाव : पुष्कर सिंह धामी ने चंपावत सीट से अपना पर्चा दाखिल किया, सुबह खटीमा में पूजा अर्चना के बाद पहुचे चंपावत खबर @हिलवार्ता Ramnagar : साहित्य अकादमी पुरस्कार से अलंकृत दुधबोली के रचयिता मथुरा दत्त मठपाल की पहली पुण्यतिथि पर जुटे साहित्यकार, कल होगी दुधबोली पर चर्चा,खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

वायु सेना रिकॉर्ड कार्यालय,जिसे एएफआरओ कहा जाता है ने आज नई दिल्ली के अपने मुख्य कार्यालय सुब्रतो पार्क में आयोजित एक समारोह आयोजित किया,जिसमें संस्थान की 80 वीं वर्षगांठ मनाई गई,कार्यक्रम में सेना,वायु सेना के सीनियर ऑफिसर वायुसैनिक सेवानिवृत्त अधिकारियों ने शिरकत की.
एएफआरओ भारतीय वायुसेना का एक सबसे पुराना विभाग है,जिसकी स्थापना आजादी से पहले 1939 में अंबाला में हुई, भारतीय वायुसेना के रिकॉर्ड ऑफिस के रूप अब सुब्रतो पार्क में स्थित है इससे पहले यह आफिस आजादी तक अविभाजित भारत के लाहौर मुंबई,और मद्रास में रहा है आफिस 1941 में लाहौर में,1942 में बम्बई,1946 में मद्रास और 1947 में नई दिल्ली लाया गया.
भारत की आजादी के समय 1947 में भारतीय वायुसेना में 14100 हवाई सैनिकों का एचआर प्रबंधन की जिम्मेदारी इसी आफिस के नाम रही.2019 में आज भारतीय वायु सेना में लगभग 1,43,000 वायु सैनिक हैं जिसकी देखरेख इस महत्वपूर्ण आफिस के पास है यानी एएफआरओ को विशाल संस्थान होने का दर्जा प्राप्त है.
वायु सेना से प्राप्त जानकारी के अनुसार वायु सेना का स्लोगन “मिशन,अखंडता और उत्कृष्टता”संबंधी भारतीय वायुसेना के सिद्धांत का पालन करते हुए इस संस्थान की 80 वीं वर्षगांठ आज मनाई गई जिसमें वायुसेना के सभी अधिकारी,कर्मचारी शामिल रहे.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta.com