Breaking News

Big breaking: उत्तराखंड में चुनाव पूर्व सियासी ड्रामा चालू आहे । अब हरक सिंह रावत को पार्टी और केबिनेट से निकाले जाने की खबर : देर रात हुआ सब कुछ पढ़िए @हिलवार्ता BIG NEWS: लक्ष्य सेन इंडिया ओपन जीते, फाइनल में 24-22,21-17 से विश्व विजेता खिलाड़ी को दी शिकस्त,पूरी खबर @ हिलवार्ता Big Breaking : लक्ष्य सेन India Open Badminton 2022 के फाइनल में पहुँचे, विश्व चेम्पियन लोह किन यू से होगा मुकाबला : पूरी खबर @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022 : पर्वतीय क्षेत्रों में कम लोग कर रहे मतदान, 2017 का ट्रेंड जारी रहा तो कई दलों का चुनावी गणित होगा प्रभावित, विशेष रिपोर्ट @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022: हलद्वानी में मेयर डॉ जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ही होंगे भाजपा के खेवनहार, सूत्रों से खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

Photo c- with thanks sdm hld

देश के नाम संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 21 दिन के लाकडाउन की घोषणा की है और लोगों से कहा है कि इस लड़ाई से लड़ने के लिए अपने घर के बाहर लक्षमण रेखा खींच लीजिए

वायरस का संक्रमण रोकने के लिए इसे जरूरी कदम बताते हुए कहा कि यह तेजी से बढ़ने वाला संक्रमण है इसलिए जनता को सहयोग अपेक्षित है । जरूरी वस्तुओं के लिए सरकार की अडवाइजरी का इंतजार है कि कैसे लोगों को आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध होंगी जैसे ही अडवाइजरी जारी होगी हिलवार्ता के माध्यम से आप तक जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी ।

इधर आज अपराह्न रसायन मंत्रालय ने किसी भी प्रकार के कृत्रिम श्वसन उपकरण या ऑक्सीजन थैरेपी उपकरण अथवा किसी अन्य तरह के श्वास उपकरण सहित सभी वेंटिलेटरों के निर्यात पर प्रतिबंध; सैनिटाइजर के निर्यात पर भी रोक लगा दी है ।

किसी भी तरह के कृत्रिम श्वसन तंत्र या ऑक्सीजन थैरेपी उपकरण अथवा किसी अन्य प्रकार के श्वसन उपकरण भी शामिल हैं। निर्यात के लिहाज से वेंटिलेटर को 19 मार्च, 2020 को ही निषिद्ध श्रेणी में रख दिया गया था । लेकिन, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के विदेश व्यापार महानिदेशालय की ओर से जारी अधिसूचना (संख्या 53/ 2015-2020) ने आज निर्यात नीति में और संशोधन करते हुए निषिद्ध श्रेणी के उत्पादों के दायरे को और विस्तार दे दिया, जिससे इस श्रेणी में आने वाली वस्तुओं का किसी भी अन्य वर्गीकरण के तहत निर्यात किए जाने की गुंजाइश को पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है। इसके साथ ही सरकार ने सभी तरह के सैनिटाइज़र के निर्यात पर भी रोक लगा दी है

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

  • हिलवार्ता न्यूज पढ़ने के लिए http://hillvarta.com पर विजिट कीजये, व्हाट्सएप पर खबरों के लिए 9760038440 को सेव करें और तथ्यपूर्ण प्रामाणिक खबरें प्राप्त करें धन्यवाद।