Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

राज्य सरकार के आज शराब की दुकानें खोलने का निर्णय के बाद सड़कों पर भारी भीड़ देखने को मिली है ।शराब की दुकानों पर भारी भीड़ जमा हो रही है जिससे शोशल डिस्टेंसिनग की सारी कवायद फेल दिखती है ।

देश के कई राज्यों ने आवश्यक वस्तुओं की दुकानों के साथ कुछ शर्तों के साथ शराब की दुकानों को खोलने का निर्णय लिया है जिसके बाद भीड़ सरकारी आदेशों को नजरअंदाज कर दुकानों तक पहुच गई है दिल्ली सहित कुछ स्थानों पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठी चार्ज की भी खबरें हैं ।

नैनीताल जिले की हल्द्वानी तहसील में नैनीताल रोड पर सैकड़ों लोग शराब लेने पहुच गए । आधा दर्जन पुलिस होमगार्ड के कर्मचारी लोगों को दूरी रखने के लिए मसक्कत करते दिखाई दिए लेकिन भीड़ को नियंत्रित करना आसान नही हुआ । लोग आपस मे एक मीटर की दूरी छोड़िए एक के पीछे एक चिपके लाइन में हैं हर किसी को अपनी बारी का इंतजार है । स्थानीय लोगों ने बताया कि लोग सुबह 7 बजे से लाइन में लग गए है और लंबी लाइन बढ़ना जारी है ।

हिलवार्ता

40 दिन के लाकडाउन की इस तरह धज्जियां उड़ना लोगो को रास नहीं आई है और सरकार से इसे नियंत्रित करने की बात की जा रही है । आज सड़कों, निजी अस्पतालों दुकानों में भारी भीड़ आने से लोगों की चिंताएं बढ़ा दी हैं । सामाजिक कार्यकर्ता खड़क सिंह बगडवाल ने कहा है कि अगर इसी तरह लोगों को भीड़ लगाने की अनुमति देनी थी तब इतने समय तक लाकडाउन की जरूरत ही क्यों आई है ।

हालांकि जिले के आला अफसरों ने कुछ इलाकों में ही निर्धारित दुकानों को खुलने की इजाजत दी थी लेकिन 40 दिन से घरों में रह रहे लोगों का सब्र टूट बाजारों की तरफ रुख कर गया। नैनीताल रोड सरस मार्किट के सामने वाली दुकान पर भीड़ ने लोगों की चिंताएं बढ़ा दी है जबकि एक्सपर्ट मानते हैं कि अभी कोरोना महामारी का पीक नहीं आया है । एस्कॉर्ट्स के डॉक्टर गुलाटी ने एक चैनल को कहा कि कोरोना का भारत मे पीक टाइम जून तक रह सकता है । ऐसे में कोरोना नियंत्रण की सारी कवायद किये पर सवाल उठ रहे हैं ।उम्मीद की जानी चाहिए कि अभी लोगों से डिस्टेंसिनग के नियम का सख्ती से पालन कराया जाय जिससे कि आम लोग इस बीमारी से बच सकें ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क