Breaking News

Big breaking: उत्तराखंड में चुनाव पूर्व सियासी ड्रामा चालू आहे । अब हरक सिंह रावत को पार्टी और केबिनेट से निकाले जाने की खबर : देर रात हुआ सब कुछ पढ़िए @हिलवार्ता BIG NEWS: लक्ष्य सेन इंडिया ओपन जीते, फाइनल में 24-22,21-17 से विश्व विजेता खिलाड़ी को दी शिकस्त,पूरी खबर @ हिलवार्ता Big Breaking : लक्ष्य सेन India Open Badminton 2022 के फाइनल में पहुँचे, विश्व चेम्पियन लोह किन यू से होगा मुकाबला : पूरी खबर @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022 : पर्वतीय क्षेत्रों में कम लोग कर रहे मतदान, 2017 का ट्रेंड जारी रहा तो कई दलों का चुनावी गणित होगा प्रभावित, विशेष रिपोर्ट @हिलवार्ता विधानसभा चुनाव 2022: हलद्वानी में मेयर डॉ जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला ही होंगे भाजपा के खेवनहार, सूत्रों से खबर @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

कोविड 19 संक्रमित मरीजों के ठीक से इलाज न होने की खबरें देश भर में सुर्खियों में आ रही है । उत्तराखंड के सुशीला तिवारी मेडिकल कालेज में भी इसी तरह की अनियमितता सामने आई है जिसके बाद जांच बिठा दी गई है । जिसकी आख्या एक सप्ताह तक सामने आने के बाद असलियत का पटाक्षेप होगा

दरसल डॉ शुशीला तिवारी अस्पताल कोविड सेंटर प्रभार देख रहे नोडल अधिकारी रोहित मीणा ने यह शिकायत जिलाधिकारी से की कि यहां चल रहे कोविड हॉस्पिटल वार्ड में मरीजों को उपयुक्त इलाज प्रदान करने में अनियमितता बरती जा रही है ।

जिसके बाद जिलाधिकारी श्री सविन बंसल ने एसटीएच में कोरोना संक्रमण से मरीजों की मृत्यु होने को गम्भीरता से लिया और तुरंत जांच के आदेश दे दिए हैं । अब मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भागीरथी जोशी सुशीला तिवारी चिकित्सालय मे कोरोना संक्रमण से हुए 08 मरीजों की मृत्यु का डेथ आडिट रिव्यू कर आख्या एक सप्ताह मे जिला मजिस्ट्रेट को प्रस्तुत करेंगी ।

नोडल अफसर ने आख्या में अवगत कराया कि अस्पताल के टियर थ्री आईसीयू (हाई इन्टेसिव आईसीयू) मे कोरोना मरीजों को भर्ती नही किया जा रहा है यह देखा गया है कि गंभीर मरीज भी हाई इंटेसिव आईसीयू में भर्ती नहीं किए जा रहे हैं । इस बीच 8 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के बाद इस बात की जरूरत है कि गंभीर बीमार को उक्त सुविधा का लाभ मिले और इस बात की जांच हो कि गंभीर श्रेणी के इन मरीजों को इस यूनिट में भर्ती क्यों नही हुई ।

इन बातों को संज्ञान में लेकर जिलाधिकारी नैनीताल ने चिकित्सालय में व्याप्त व्यवस्थाओं व लापरवाही को देखते हुये सीएमओ को एसटीएच मे कोरोना संक्रमण से हुई 08 मरीजों की मृत्यु का डेथ आडिट रिव्यू कर आख्या एक सप्ताह में देने को कहा है । जिसमे इस बात की गहन जांच होगी कि क्या वास्तव में कोविड से हुई मरीजों की मौत किसी तरह की अनियमितता की वजह हुई साथ ही यह भी सुनिश्चित करने को कहा गया है कि अगर उक्त आईसीयू की सुविधा अगर मिल गई होती तो मृत्यु की सम्भवना पर कितना असर पड़ता

अब देखना होगा जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित जांच में क्या सच निकल बाहर आता है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments