Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

एन.सी.सी की 80 यू.के वाहिनी के तत्वावधान में स्वामी विवेकानंद राजकीय महा विद्यालय सभागार में एन सी सी कैडिटों के लिए कॅरियर काउंसिलिंग एवं गाइडेंस कार्यक्रम आयोजित किया गया। केडिट्स को उनके करियर सम्बन्धी बारीकियां समझाई गई जिसमें एकलब्य एकेडमी पिथौरागढ़ के मेजर ललित कुमार सिंह ने केडिट्स को अनेक जानकारियां साझा की ।

मेजर ललित ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्र के युवाओं में अथाह उर्जा है कठिन परिस्थितियों में सर्वाइव की बेहतरीन क्षमता है जिसका उपयोग कैसे हो यह बड़ी चुनोती है । मेजर ने केडिट्स को सेना के लिए नियमित अभ्यास और पढ़ाई करने को कहा । सीमित रोजगार के अवसरों के इतर सेना में युवसों का भविष्य सुरक्षित है जिसके लिए प्रतिस्पर्धा भी बढ़ रही है मेजर ललित ने युवाओं से अधिक मेहनत कर इस मुकाम को प्राप्त करने को युवाओं को प्रोत्साहित किया ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा ब्रेकिंग :सुन्दरढूंगा क्षेत्र में एसडीआरएफ को मिली सफलता,लापता पांच बंगाली ट्रेकर्स के शव मिले,कलकत्ता भेजे जा रहे हैं शव,पूरी खबर @हिलवार्ता

मेजर ने केडिट्स को संबोधित करते हुए बताया कि आर्मी अफ़सर्स की परीक्षा में सर्वाधिक प्रश्न तार्किकता,स्मरण शक्ति को लेकर पूछे जाते हैं इसलिए यादाश्त तेज करने के लिए लगातार अभ्यास की जरूरत है । निरंतर परिश्रम व लगन के द्वारा मुश्किल से मुश्किल लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा की एनसीसी एक ऐसा फॉर्मेट है जहां बेसिक्स सीखकर सेना में सेवा के प्रति आकर्षण पैदा होता है इसलिए प्रारंभ से ही अपने लक्ष्य को ऊँचा रखना जरूरी है.काउंसिलिंग सत्र में केडिट्स को एन सी सी के अधिकारी एवं महाविद्यालय की
प्राचार्य डा. संगीता गुप्ता ने भी केडिट्स को संबोधित किया  गया ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता

प्राचार्या ने बताया कि महाविद्यालय में “इंग्लिश स्पीकिंग एंड पर्सनालिटी डेवलपमेंट” भी पढ़ाया जायेगा. कार्यक्रम के अंत में सवाल-जवाब सत्र भी हुआ। इसमें सेना की परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं ने सवाल पूछकर अपनी जिज्ञासा शांत की। इस अवसर पर प्राचार्या डॉ संगीता गुप्ता,डॉ स्वाति मलकानी संयोजक, डॉ प्रकाश लखेड़ा सह संयोजक डॉ ऋतु मितल ,डॉ भगत लोहिया ,सूबेदार राजमन गुरुंग ,अंकिता ,मुन्ना ढेक आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

, , , , , , , , ,
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments