Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हलद्वानी विधानसभा चुनाव 2022 में दुबारा भाजपा मेयर जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला को ही दुबारा मैदान में उतारेगी । हालांकि दिल्ली और देहरादून  में टिकट बंटवारे को लेकर बैठकों का दौर जारी है चूंकि अभी फाइनल आना बांकी है लेकिन सूत्रों से खबर आ रही है कि रौतेला हलद्वानी से दुबारा बतौर विधायक उम्मीदवार होंगे ।

ज्ञात रहे कि 2017 में मेयर जोगेंद्र सिंह रौतेला ने 37229 मत हासिल किए । 43786 मतों के साथ इंदिरा ह्रदयेश ने सीट अपने खाते लाने में कामयाबी हासिल की लेकिन जीत का मार्जिन बहुत न्यून रहा । इसी वजह इस सीट पर रौतेला की सशक्त दावेदारी बन रही थी। अन्य  दावेदारों में प्रकाश हरबोला, हरीश चंद्र पांडे , प्रमोद टोलिया से जोगेंद्र कहीं अधिक वजनदार हैं ।  हाल ही केबिनेट मंत्री बंशीधर भगत को इस भी इस सीट पर दावेदार माना जा रहा था । लेकिन यह बात तय हो चुकी बताई जा रही है कि हलद्वानी में मेयर ही उम्मीदवार होंगे ।  जबकि कालाढूंगी से भाजपा महामंत्री सुरेश भट्ट को टिकट देने की बात चल रही थी । अब देखना होगा कि कालाढूंगी में भगत सुरेश तिवारी या सुरेश भट्ट में कौन उम्मीदवार होगा ।

जानकारी मिल रही है कि नेतृत्व  हलद्वानी सीट पर  गहरे मंथन के बाद आखिरकार मेयर को ही टिकट देने के लिए राजी हुआ है । मेयर रौतेला पर पार्टी लंबे मंथन के बाद  इसलिए भी राजी है कि पिछले चुनाव में कद्दावर कांग्रेस नेता स्व इंदिरा के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन  किया और बहुत कम मार्जिन से चुनाव हारे । साथ ही नेतृत्व मानता है कि  मेयर की जीत की संभावनाएं रौतेला की साफ छवि के चलते अन्य दावेदारों के मुक़ाबले कहीं अधिक है ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments