Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्दूचौड़ के ग्रामीण आज लघुसिचाई के अधिशासी अभियंता से मिलकर रुके हुए काम पूरा कराने को ज्ञापन दिया ग्रामीणों ने कहा कि गांव की गूल नहरें जीर्ण शीर्ण हो रही हैं जिनका ठीक किया जाना आवश्यक है ग्राम प्रधान बी.ड़ी.खोलिया के नेतृत्व में ग्रामीणों का एक शिष्टमंडल ने अधिशासी अभियंता से मुलाकात की.

ग्रामीणों द्वारा लंबे समय से ग्राम सभा के तीनो राजस्व गांव दीना ,जयराम, परमा, नवनिर्माण व जीण- क्षीण नहर जिसकी लंबाई लगभग 15 किलोमीटर है के संबंध में अवगत कराया कि अगर नहर को सीघ्र ठीक नहीं कराया गया तो आने धान की फसल बोने में समस्या खड़ी हो जाएगी प्रधान ने अवगत कराया कि छोर के 2 दर्जन परिवारों तक पानी पहुच ही नही सकता है उन्होंने कहा कि विभाग को अनेकों बार समस्या से अवगत करा दिए गए हैं व्यक्तिगत रूप से मौका मुआयना किया है विभाग द्वारा किसानों किसानों की अनदेखी की जा रही है जो चिंतनीय बात है प्रधान ने चेताया कि आज किसानों की शीघ्र समस्या का समाधान के लिए आज विधिवत विभाग को ज्ञापन दिया गया है अगर समय रहते विभाग नहीं जागा तो ग्रामीण आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेंगे ज्ञापन देने वालो में बीडी खोलिया प्रकाश पांडे सहित कई लोग मौजूद थे.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@ hillvarta.com

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता