Breaking News

Big breaking:2023 के बाद Johnson & Johnson टेल्क पाउडर होगा बाजारों से गायब, पाउडर में कैंसर के लिए जिम्मेदार अवयव मिलने के बाद भरना पड़ा भारी जुर्माना,पूरी खबर पढिये@हिलवार्ता Good initiative : रामनगर स्थित public school ने उत्तराखंड के आजादी के नायकों की फ़ोटो गैलरी बनाकर की मिशाल कायम,खबर विस्तार से@हिलवार्ता Big Breaking: उत्तराखंड के लाल लक्ष्य सेन ने commenwealth games का स्वर्ण पदक जीत रचा इतिहास,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड : दुखद खबर: उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हरीश पाठक का निधन, पूरी जानकारी @हिलवार्ता Haldwani धरना अपडेट :सिटी मजिस्ट्रेट का आश्वासन, एक हप्ते में होगा समाधान ,जलभराव से निजात के लिए चल रहा धरना स्थगित,विधायक भी पहुँचे धरनास्थल,खबर@ हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

साहित्‍य अकादमी ने बाल साहित्‍य पुरस्‍कार और युवा पुरस्‍कार 2019 की घोषणा की आइये पूरा पढ़ते हैं .
साहित्‍य अकादमी ने साहित्‍य अकादमी बाल साहित्‍य पुरस्‍कार 2019 के लिए 22 लेखकों तथा युवा पुरस्‍कार 2019 के लिए 23 लेखकों का चयन किया है। आज अगरतला में अकादमी के अध्‍यक्ष डॉ. चन्‍द्रशेखर काम्‍बर की अध्‍यक्षता में कार्यकारी बोर्ड की बैठक में पुरस्‍कार पाने वाले लोगों के चयन को स्‍वीकृति दी गई। केन्‍द्रीय पर्यटन तथा संस्‍कृति राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने पुरस्‍कार विजेताओं को बधाई दी है। पुरस्‍कार विजेताओं का चयन प्रत्‍येक भाषा में तीन सदस्‍यीय निर्णायक मंडलों द्वारा की गई सिफारिशों तथा निर्धारित नियमों और प्रक्रिया के आधार पर किया गया। प्रक्रिया के अनुसार कार्यकारी बोर्ड ने पुरस्‍कारों की घोषणा निर्णायक मंडल के सर्वसम्‍मत/बहुमत के आधार पर किया। मैथिली में पुरस्‍कार की घोषणा बाद में की जाएगी।
बाल साहित्‍य पुरस्‍कार के लिए पुरस्‍कार उन पुस्‍तकों से संबंधित हैं, जो पुरस्‍कार वर्ष के पहले के 5 वर्षों की अवधि में(यानी 1 जनवरी, 2013 तथा 31 दिसम्‍बर, 2017 के बीच) पहले प्रकाशित हुई हों। लेकिन प्रारंभिक 10 वर्षों के दौरान यानी 2010 से 2019 तक पुरस्‍कार एक लेखक को बाल साहित्‍य में उसके सम्‍पूर्ण योगदान के आधार पर दिया जा सकता है।
कविता की ग्‍यारह पुस्‍तकें, लघु कथा की छह पुस्‍तकें, पांच उपन्‍यास तथा एक साहित्‍य आलोचना की पुस्‍तक को साहित्‍य अकादमी युवा पुरस्‍कार 2019 प्राप्‍त हुए हैं। यह पुरस्‍कार उन पुस्‍तकों से संबंधित हैं, जिनका प्रकाशन पुरस्‍कार वर्ष की 1 जनवरी को 35 वर्ष या उससे कम आयु के लेखकों ने किया है।
बाद में एक समारोह में पुरस्‍कार मंजूषा रूप में अंकित ताम्र पट्टिका तथा 50 हजार रुपये का चैक विजेताओं को प्रदान किए जाएंगे।
हिलवार्ता साहित्य डेस्क
@ hillvarta.com