Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी के बिरला स्कूल को जाने वाले रास्ते के पास पड़ने वाली कालोनियों के सैकड़ों घरों में हल्की बारिश में ही शहर का कूड़ा घुस गया है.रात हुई बारिश के बाद शहर के लिये आफत बना रस्किया नाला उफना गया और शहर का सारा कूड़ा लोगों के लिए आफत लेकर आया है.

राजारानी विहार हल्द्वानी की पाश कालोनियों में शुमार है स्थानीय निवासी जमन सिंह कनवाल की स्कूल के बाहर दुकान है उनकी दुकान से आगे छडैल रोड तिराहे तक बिरला स्कूल का रास्ता हल्द्वानी के कूड़े से पटा पड़ा है.योगेश कनवाल ने कहा कि प्रतिवर्ष हो रही इस बर्बादी से उनके व्यवसाय को नुकसान हो रहा है शहर की दुकानों घरों का कूड़ा राजारानी विहार के लोगों के लिए आफत लेकर आया है इस सड़क पर स्थित दुकानें बंद है.स्थानीय लोगो के घर के अंदर गंदा पानी घुस गया,राजारानी विहार निवासी अमित पांडे,के सोफे कालीन खराब हो गए हैं,रसोई बाथरूम में कीचड़ भरा हुआ है लगभग यही हाल सभी घरों के हैं.अमित मोहन जोशी हरीश जोशी ने बताया कि सुबह उठकर उन्होंने 3 घंटे सफाई की. इस गंदगी से क्षेत्र में संक्रामक बीमारी फैल सकती है अमित पांडे बताते हैं कि निगम में शामिल सड़क का ऊपरी हिस्से में स्थित इस नाले की कभी ही सफाई हुई हो पिछले वर्ष भी पूरा इलाका इसी तरह गंदगी से पट गया था किसी ने क्षेत्र की सुध नहीं ली अगर जिम्मेदार विभाग बारिश से पहले चेत जाते तो उनका नुकसान बच जाता,हिलवार्ता ने मौके पर देखा कि कॉलोनी के लोग खुद अपने घरों की सफाई करने में लगे हैं राजारानी विहार के लगभग 200 घरों में नाले का गंदा पानी घुसा है.

निगम की सफाई टीम नाले की सफाई के लिए पहुचं गई थी कर्मचारियों के हाथपांव फूले हैं कि सैकड़ों टन मलवा कैसे हटाया जाए,जेसीबी बुला ली गई है दिन भर में कूड़ा साफ हो पायेगा.सुबह स्कूल जाते हुए बच्चों को सड़क में कीचड़ के चलते काफी परेशानी हुई है.


हरीश जोशी,अमित पांडे ने कहा कि जब अधिकारियों को इस नाले हर साल होने वाली बर्बादी की जानकारी है तब भी नाले की सफाई की व्यवस्था नहीं की गई कूड़े में अधिकतर प्लास्टिक,थर्माकोल बहकर आया है नाले के पास व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर जुर्माना लगाया जाए एक टीम बनाकर इस स्थिति से निपटा जा सकता था,कालोनी के लोगों में रोष है लोगों ने कहा कि नगर निगम,सिचाई विभाग अपनी जिम्मेदारी सही से नहीं निभा रहा है अभी तो बरसात की शुरुवात है आने वाले दिनों में कई निचले इलाकों के लोग डरे सहमे हुए हैं.


हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta.com

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता