Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

इंटरनेट के जमाने मे भी पुस्तकों की महत्ता को कमतर नहीं आंका जा सकता है आज भी कला साहित्य और विज्ञान की पुस्तकें सभी उम्र के लोगों आकर्षित करती हैं लोगों को पढ़ने की प्रवृत्ति की तरफ लाने के लिए प्रयत्न किए जाएं तो परिणाम सुखद आते हैं डिजिटल जमाने मे भी लाइब्रेरी का अपना महत्व है दीगर है कि तीन दशक पहले हर शहर की शान लाइब्रेरियों की हालत खस्ता है लेकिन कोई है जो पुस्तकालयों को पुनर्जीवन दे रहा है अपने प्रयासों से तब इस कदम की सराहना भला कौन नहीं करेगा।

इस मुहिम को शिक्षा के लिए काम कर रहे सामाजिक संस्था सार्थक प्रयास पंख लगा रही है सार्थक प्रयास दान में प्राप्त और खुद की मेहनत से जुटाई गई पुस्तकों को लोगों तक पहुचा रही है कि लोग अपनी पढ़ने की प्रवृत्ति को कायम रखें.सार्थक प्रयास संस्था जिसके कर्ताधर्ता उमेश पंत हैं की टीम ने पुस्तकालयों की कड़ी में हल्द्वानी में अपने चौथे पुस्तकालय की शुरुआत की है आज उनके प्रयास से रेलवे बाज़ार में लगभग 1000 पुस्तकों से पुस्तकालय का शुभारंभ किया गया है जिसमे साहित्य ,इतिहास, विज्ञान आदि विषयों के साथ बच्चो की पुस्तकें शामिल हैं.
उल्लेखनीय है कि सार्थक प्रयास पिछले एक दशक से सामाजिक छेत्र में सक्रिय है,संस्था ने शिक्षा को अपना आधार बनाया है,संस्था ने अल्मोड़ा जनपद के चौखुटिया और रुद्रप्रयाग जनपद के फाटा के अलावा वसुन्धरा ग़ज़िआबाद में पुस्कालय की स्थापना की है साथ ही लगभग 180 निर्धन और जरूरतमंद बच्चो की शिक्षा की व्यवस्था सार्थक प्रयास के साथी बखूबी करते हैं.
सार्थक प्रयास की इस मुहिम को हल्द्वानी में सहयोग किया है स्थानीय निवासी बिजनेसमैन श्री अशोक पाल सिंह,श्रीमती विजयालक्ष्मी और श्री विक्रम सिंह जी ने,उक्त परिवार ने संस्था को एक कमरा इस पुनीत कार्य के लिए दिया है और स्वयं इस पुस्तकालय की देखरेख की जिम्मेदारी ली है.

आज पुस्तकालय के उद्घटान के अवसर पर संस्था में संयोजक श्री उमेश चन्द्र पन्त,श्री चारु तिवारी,श्रीमती हंसा अमोला,श्री प्रमोद साह,श्री प्रकाश पन्त,ओ पी पांडेय,जगमोहन रौतेला,पवन तिवारी,हेमलता, उमेश तिवारी विश्वास,दयाल पांडे सहित7हम शहर के कई सामाजिक संगठनों की महिला सदस्य और आम लोग उपस्थित रहे.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hilvarta.com