Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

एग्जिट पोल्स के मुताबिक दिल्ली में आम आदमी पार्टी दुबारा सत्ता में लौट रही है अधिकतर एग्जिट पोल्स ने आम आदमी पार्टी के पक्ष में आंकड़े प्रस्तुत किये हैं

सुदर्शन न्यूज़– आप 40-45। भाजपा 24-28। कांग्रेस 2-3 ।

टाइम्स नाउ इप्सोस — आप 44 भाजपा 26 कांग्रेस 0 ।

एबीपी न्यूज़ सी वोटर -आप 49-63 । भाजपा 5-19 कांग्रेस 0-4

टीवी 9 भारतवर्ष – आप 54। भाजपा 15 कांग्रेस 1 ।

रिपब्लिक टीवी-जन की बात– आप 48-61 भाजपा 9-21 कांग्रेस 0-1

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा ब्रेकिंग :सुन्दरढूंगा क्षेत्र में एसडीआरएफ को मिली सफलता,लापता पांच बंगाली ट्रेकर्स के शव मिले,कलकत्ता भेजे जा रहे हैं शव,पूरी खबर @हिलवार्ता

इंडिया न्यूज -नेता आप– 53-57 भाजपा 11-17 कांग्रेस 0-2

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आज मतदान समाप्त होने तक लगभग 55 प्रतिशत मतदान हुआ है आम आदमी पार्टी भाजपा कांग्रेस सहित कुल 672 उम्मीदवार अपनी किस्मत को ईवीएम में कैद करा चुके हैं 11 फरवरी के दिन यह तय हो जाएगा कि दिल्ली की कुर्सी के लिए जनता ने किसके पक्ष में कितना भरोसा किया यहै और किसे कुर्सी सौप भरोसा जताया है

यह भी पढ़ें 👉  काम की खबर: दुपहिया वाहन चालक ध्यान दें, 9 माह से 4 साल तक के बच्चे को पहनना होगा हेलमेट,पूरी खबर@हिलवार्ता


देश की नजरें दिल्ली चुनाव पर टिकी है दिल्ली में भाजपा ने जहां राष्ट्रीय मुद्दों सहित सी ए ए को मुद्दा बनाया वहीं केजरीवाल ने स्वास्थ्य शिक्षा को चुनावी मुद्दा बनाया तीसरे नंबर पर मानी जा रही कांग्रेस ने शीला दीक्षित सहित अपने समय मे दिल्ली के विकास की बातों से आमजन को रिझाने की कोशिश की ।


2015 में अप्रत्याशित तरीके से केजरीवाल ने 70 विधानसभा सीटों पर कब्जा कर भाजपा को 3 विधानसभाओं तक सीमित कर दिया था और कांग्रेस को खाता तक नही खुलवाने दिया 2020 में भाजपा कांग्रेस के लिए अपने प्रदर्शन को सुधारने की चुनौती मिली वहीं आम आदमी पार्टी को अपने खेमे में 2015 की तरह की जीत के आसपास ही रहने की चुनौती ।

बहरहाल केजरीवाल की वापसी साफ दिखाई दे रही है असल परिणाम क्या हैं 11 फरवरी तक इंतजार करना होगा ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता

@हिलवार्ता.कॉम