Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड के विद्यालयों में आयुर्वेद पढ़ रहे छात्रों पर लाठीचार्ज के बाद सरकार की मंशा पर सवाल खड़े हो रहे हैं, आयुर्वेदिक मेडिकल कालेजों में फीस वृद्धि के खिलाफ वर्ष 2018 में याचिका दायर की गई थी जिस पर निर्णय देते हुए माननीय कोर्ट ने सरकार और संस्थानों में फीस का ढांचा तय करने और बड़ी हुई फीस छात्रों को वापस करने का आदेश दिया था.
हाई कोर्ट ने पतंजली आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक आचार्य बाल कृष्ण,प्रिंसिपल डीएन शर्मा एवम् उत्तराखंड आयुर्वेदिक विश्वविधालय के कुल सचिव माधवी गोस्वामी को न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की एकलपीठ ने अवमानना नोटिस जारी किया है.मामले के अनुसार विश्वविधालय के छात्र सुभम पंत व 23 अन्य छात्रो ने अवमानना याचिका दायर कर कहा है कि कोर्ट ने बढ़ाई गयी फीस से सम्बंधित साशानादेश 2018 में ही निरस्त कर दिया था और बढ़ाई गयी फीस छात्रो को वापस करने को भी कहा था परन्तु विश्वविधालय द्वारा न तो उनको फीस वापस की जा रही है और निरस्त किये गए साशनादेश के आधार पर ही उनसे फीस ली जा रही है.
आज सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने पतंजली आयुर्विज्ञान संस्थान के निदेशक आचार्य बाल कृष्ण,प्रिंसिपल डीएन शर्मा एवम् उत्तराखंड आयुर्वेदिक विश्वविधालय के कुल सचिव माधवी गोस्वामी को कोर्ट की अवमानना का नोटिस जारी कर दिया,मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की एकलपीठ में हुई और इसी पीठ ने आज अवमानना नोटिस जारी किया है.
Hillvarta news desk
@http://hillvarta.com

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता