Breaking News

Doctor,s Day 1st july 2022 special report:”अग्रिम मोर्चे पर फैमिली डॉक्टर,थीम के साथ Doctor,s Day सेलिब्रेशन आज. डॉ एन एस बिष्ट का विशेष आलेख पढिये @हिलवार्ता Dehradun : धामी सरकार के 100 दिन पूरे, शिक्षा मित्र और अतिथि शिक्षकों का मानदेय बढ़ा,खबर@हिलवार्ता Uttrakhand:हिमांचल की तर्ज पर राज्य में ग्रीन सेस लगाए जाने की जरूरत, बेतहासा पर्यटक,धार्मिक टूरिस्म प्राकृतिक संसाधनों पर भारी,पढ़ें@हिलवार्ता Haldwani : प्रसिद्ध लोक साहित्यकार स्व मथुरा दत्त मठपाल स्मृति दो दिवसीय कार्यशाला 29-30 जून एमबीपीजी में,100 कुमाउँनी कवियों के कविता संग्रह का होगा विमोचन, खबर@हिलवार्ता Uttrakhand : मानसून ने दी दस्तक, राज्य के मैदानी क्षेत्रों में हल्की बारिश के बाद तापमान में गिरावट, मुनस्यारी ने तेज बारिश के बाद सड़क यातायात प्रभावित,खबर@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

अभी कुमायूँ कमिश्नर महोदय ने अधिकारियों को मानसून से पहले आवश्यक कदम उठाने की हिदायत दी ही थी कि आज पहली बारिश ने सरकारी विभागों की तैयारी को लेकर पोल खोल दी, दिन भर बारिश से हल्द्वानी सहित तराई में जलभराव की स्थित बन गई जगह जगह सड़कों पर जलभराव हुआ बमुश्किल शाम बारिश रुकने के बाद ही सड़कें चलने लायक हुई.

पीलीकोठी जहां लाखों खर्च कर नाली बनी सफाई नही हुई और बन गया तालाब.
हल्द्वानी रामपुर रोड में समता आश्रम गली पर्वतीय मुहल्ले सहित सरगम सिनेमा के सामने बरेली रोड में तीन पानी, गोल्डन फर्नीचर के आगे कालाढुंगी रोड में पीलीकोठी सहित पांडे निवास के सामने मुख्य सड़क पर जलभराव देखा गया गहराई वाले मुहल्लों में कुसुमखेड़ा तक सड़क नालों की गंदगी मुहल्लों के भीतरी सड़कों तक जाने की खबरें हैं.

कालाढुंगी रोड में सड़क पर पैदल चलना दूभर, टेम्पो से छिटकता पानी.
पीलीकोठी में पिछले कुछ समय पहले ही नाली का निर्माण कराया गया है इसके बावजूद पहली ही बारिश ने सम्बंधित विभागों की पोल खोल कर रख दी तराई भाभर में पिछले 6 घंटे से बारिश लगातार होती रही जिससे मौसम सुहावना हो गया इधर शाम से बारिश रुक गई है लेकिन बादल छाए हैं सम्भव है रात और बारिश हो,इसे लोकल मानसून कहा जा रहा है.

जेल रोड से कालाढुंगी चौराहे के बीच एक फ़ीट पानी सड़क पर.
ताज्जुब है कि नगर निगम और सड़कों नालियों की सफाई की जिम्मेदारी एजेंसियों को कमिश्नर के आदेश का कोई फर्क नहीं पड़ा है बरसात से पूर्व नालों की सफाई नहीं होने से नाली का पानी सड़कों पर आ जाता है जिससे पूरे बरसात में सड़कों पर चलना दूभर हो जाता है.
नगर निगम में आये नए इलाके भी भगवान भरोसे हैं कुडुमखेड़ा हनुमान मंदिर ,चीनपुर,लालडाँठ सहित आर के टेंट हाउस रोड, नारायण नगर इंटर कालेज रोड पर नालियों के ऊपर अतिक्रमण के चलते हालात खराब होने की पूरी सम्भावना है.

कुसुमखेड़ा में सड़क का गंदा पानी घुसा रिहायसी इलाके में.
गंदे नालों की सफाई नहीं होने से प्रतिवर्ष डेंगू के मरीजों की संख्या बद्व रही है नए इलाकों में जहां नगर निगम की सफाई की जिम्मेदारी बढ़नी चाहिए थी वहां की सफाई व्यवस्था पहले से चल रही प्राइवेट कूड़ा उठाने वालों पर है जो सप्ताह में दो दिन ही पहुचते हैं लोगों की शिकायत है कि मुहल्ले के कोनो तक यह गाड़िया नही पहुचती अगर जाएं तो उनसे सौ रुपया तक लिया जा रहा है.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta.com