Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

अभी कुमायूँ कमिश्नर महोदय ने अधिकारियों को मानसून से पहले आवश्यक कदम उठाने की हिदायत दी ही थी कि आज पहली बारिश ने सरकारी विभागों की तैयारी को लेकर पोल खोल दी, दिन भर बारिश से हल्द्वानी सहित तराई में जलभराव की स्थित बन गई जगह जगह सड़कों पर जलभराव हुआ बमुश्किल शाम बारिश रुकने के बाद ही सड़कें चलने लायक हुई.

पीलीकोठी जहां लाखों खर्च कर नाली बनी सफाई नही हुई और बन गया तालाब.
हल्द्वानी रामपुर रोड में समता आश्रम गली पर्वतीय मुहल्ले सहित सरगम सिनेमा के सामने बरेली रोड में तीन पानी, गोल्डन फर्नीचर के आगे कालाढुंगी रोड में पीलीकोठी सहित पांडे निवास के सामने मुख्य सड़क पर जलभराव देखा गया गहराई वाले मुहल्लों में कुसुमखेड़ा तक सड़क नालों की गंदगी मुहल्लों के भीतरी सड़कों तक जाने की खबरें हैं.

कालाढुंगी रोड में सड़क पर पैदल चलना दूभर, टेम्पो से छिटकता पानी.
पीलीकोठी में पिछले कुछ समय पहले ही नाली का निर्माण कराया गया है इसके बावजूद पहली ही बारिश ने सम्बंधित विभागों की पोल खोल कर रख दी तराई भाभर में पिछले 6 घंटे से बारिश लगातार होती रही जिससे मौसम सुहावना हो गया इधर शाम से बारिश रुक गई है लेकिन बादल छाए हैं सम्भव है रात और बारिश हो,इसे लोकल मानसून कहा जा रहा है.

जेल रोड से कालाढुंगी चौराहे के बीच एक फ़ीट पानी सड़क पर.
ताज्जुब है कि नगर निगम और सड़कों नालियों की सफाई की जिम्मेदारी एजेंसियों को कमिश्नर के आदेश का कोई फर्क नहीं पड़ा है बरसात से पूर्व नालों की सफाई नहीं होने से नाली का पानी सड़कों पर आ जाता है जिससे पूरे बरसात में सड़कों पर चलना दूभर हो जाता है.
नगर निगम में आये नए इलाके भी भगवान भरोसे हैं कुडुमखेड़ा हनुमान मंदिर ,चीनपुर,लालडाँठ सहित आर के टेंट हाउस रोड, नारायण नगर इंटर कालेज रोड पर नालियों के ऊपर अतिक्रमण के चलते हालात खराब होने की पूरी सम्भावना है.

कुसुमखेड़ा में सड़क का गंदा पानी घुसा रिहायसी इलाके में.
गंदे नालों की सफाई नहीं होने से प्रतिवर्ष डेंगू के मरीजों की संख्या बद्व रही है नए इलाकों में जहां नगर निगम की सफाई की जिम्मेदारी बढ़नी चाहिए थी वहां की सफाई व्यवस्था पहले से चल रही प्राइवेट कूड़ा उठाने वालों पर है जो सप्ताह में दो दिन ही पहुचते हैं लोगों की शिकायत है कि मुहल्ले के कोनो तक यह गाड़िया नही पहुचती अगर जाएं तो उनसे सौ रुपया तक लिया जा रहा है.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta.com