Breaking News

Doctor,s Day 1st july 2022 special report:”अग्रिम मोर्चे पर फैमिली डॉक्टर,थीम के साथ Doctor,s Day सेलिब्रेशन आज. डॉ एन एस बिष्ट का विशेष आलेख पढिये @हिलवार्ता Dehradun : धामी सरकार के 100 दिन पूरे, शिक्षा मित्र और अतिथि शिक्षकों का मानदेय बढ़ा,खबर@हिलवार्ता Uttrakhand:हिमांचल की तर्ज पर राज्य में ग्रीन सेस लगाए जाने की जरूरत, बेतहासा पर्यटक,धार्मिक टूरिस्म प्राकृतिक संसाधनों पर भारी,पढ़ें@हिलवार्ता Haldwani : प्रसिद्ध लोक साहित्यकार स्व मथुरा दत्त मठपाल स्मृति दो दिवसीय कार्यशाला 29-30 जून एमबीपीजी में,100 कुमाउँनी कवियों के कविता संग्रह का होगा विमोचन, खबर@हिलवार्ता Uttrakhand : मानसून ने दी दस्तक, राज्य के मैदानी क्षेत्रों में हल्की बारिश के बाद तापमान में गिरावट, मुनस्यारी ने तेज बारिश के बाद सड़क यातायात प्रभावित,खबर@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

बिगत एक साल में उत्तराखंड में करीब पांच हजार लोग सड़क दुर्घटनाओं में अपनी जान गवां चुके हैं । दुर्घटनाओं के लिए ओवरस्पीड और नशे में वाहन चलाना मुख्य वजहें हैं ।

अधिक कमाई के चक्कर मे क्षेत्र में ओवरलोडिंग और ओवरस्पीड के चलते आये दिन दुर्घटनाओं की खबरें आती रहती हैं । तीव्र मोड़ो और आबादी क्षेत्र में लंबे समय से चेतावनी बोर्ड लगाए जाने की मांग की जाती रही है । इसी को संज्ञान में लेकर एसएसपी अलमोड़ा ने सामाजिक कार्यकर्ता रमेश मुमुक्षु की मांग पर दन्या से 2 किमी आगे आटी गाँव के तीव्र मोड़ पर बोर्ड लगाया गया है ।

ज्ञात रहे कि जिस जगह बोर्ड लगाया है वह घनी आबादी क्षेत्र है एसओ दन्या शुशील कुमार ने इस क्षेत्र सहित कई अन्य संवेदनशील मोड़ों में इसी तरह के बोर्ड लगाकर वाहन चालकों को सचेत करने की मुहिम चलाई है ।
दन्या पुलिस ने बोर्ड बनाने का जिम्मा सुखलाल को दिया है ।

सुखलाल का एक हाथ दुर्घटना में कट गया था लिहाजा दिव्यांग व्यक्ति को पेंटिंग का कार्य सौपने पर पुलिस की सराहना की जा रही है । एसओ ने कहा है कि वह ओवरस्पीड वाहनों की निगरानी रख रहे हैं पुलिसकर्मी वाहन चालकों को सुरक्षित ड्राइविंग के लिए प्रेरित करने का लगातार प्रयासरत है ।

रमेश भाई मुमुक्षु ने बताया कि एसएसपी अलमोड़ा द्वारा संवेदनशील मोड़ों पर बोर्ड लगाए जाने से सड़क सुरक्षा में सुधार होगा ।

हिलवार्ता न्यूज डेस्क 

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments