Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

गैरसेंण में चल रहे बजट सत्र में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसेंण को कमिश्नरी बनाने का एलान किया है । नई कमिश्नरी में बागेश्वर अल्मोड़ा चमोली और रुद्रप्रयाग जिले होंगे शामिल । आज सत्र मे घोषणा की गई है ।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भराड़ीसैंण (गैरसैंण) में बजट पेश करने के दौरान कुछ और घोषणाएं की है आइये देखते हैं ।

गैरसैंण को उत्तराखण्ड में एक नई कमिश्नरी बनाया जायेगा। इसमें चमोली, रूद्रप्रयाग, अल्मोड़ा और बागेश्वर जिलों को शामिल किया जायेगा। गैरसैंण कमिश्नरी में कमिश्नर एवं डीआईजी की नियुक्ति की जायेगी। नई बनाई गई नगर पंचायतों में इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए 01-01 करोड़ रूपये दिये जायेंगे।भराड़ीसैंण (गैरसैंण) ग्रीष्मकालीन राजधानी क्षेत्र के नियोजित विकास के लिए मास्टर प्लान का टेंडर एक माह के भीतर किया जाएगा। गैरसैंण ग्रीष्माकालीन राजधानी परिक्षेत्र में खाद्य प्रसंस्करण इकाई की स्थापना की जायेगी। गैरसैंण ग्रीष्माकालीन राजधानी परिक्षेत्र में 20 हजार फलदार पेड़ लगाये जायेंगे। राज्य के प्रत्येक महाविद्यालयों को 20-20 कम्यूटर दिये जायेंगे।

2022 में हो रहे विधानसभा चुनावों को मद्देनजर त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा आज गैरसैण को कमिश्नरी घोषित करने और चार जिलों को शामिल किए जाने को लेकर अभी प्रतिक्रिया आना बांकी है, चूंकि राज्य समर्थक गैरसैण को स्थायी राजधानी से कम कुछ भी नही चाहते हैं । देखना होगा कि सरकार की इस घोषणा का और कमिश्नरी का लोगों में क्या मेसेज जाता है । चुनाव को मद्देनजर विपक्ष की ओर से वजट सत्र की और इस दौरान हुए लाठीचार्ज की भरपाई करने की यह पेशकश लोगों को किस कदर सहमति प्रदान करती है यह आने वाले समय मे पता चलेगा । लेकिन मुख्यमंत्री द्वारा कमिश्नरी की घोषणा हाल फिलहाल बड़ा सियासी दांव है

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता

हिलवार्ता न्यूज डेस्क

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments