Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

कहते हैं ना काल चक्र है और उसके आगे बड़ों बड़ों को धुटने टेकने पड़ते हैं समय लौटता है और जब अपने लपेटे में जब लेता है वह किसी को भी नहीं बख्शता है यही आज पूर्व गृह मंत्री के साथ भी हुआ कभी उनके मातहत आने वाली सीबीआई आज उन्ही के घर पहुच एक सक्षम वकील राजनेता को हिरासत में ले लेती है.
दरसल मामला आईएनएक्स मीडिया से जुड़ा हुआ है सीबीआई के अनुसार एक निजी कंपनी जो कार्ति चिदंबरम के बेटे के नियंत्रण में थी को इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी के मीडिया हाउस से पैसे का लेनदेन किया गया जिसमें कार्ति ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए एफडीआई क्लीयरेंस में मदद की थी इस मामले में सीबीआई ने 15 मई 2017 को एफआईआर दर्ज की थी इसके बाद ईडी ने मनी लांड्रिंग का केस दायर किया गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद सीबीआई अधिकारी मंगलवार को चिदंबरम के दिल्ली स्थित आवास पहुंचे थे लेकिन वहां उनसे मुलाकात नहीं होने पर अधिकारियों ने एक नोटिस चस्पां कर उन्हें दो घंटे में पेश होने का निर्देश दिया.
दो दिन से हाई प्रोफाइल मामले में आज सुप्रीम कोर्ट से आज उनको समय नहीं मिल पाया और सुनवाई के लिए कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करने का समय देते ही सीबीआई और ईडी के दप्तर में हलचल इस ओर संकेत कर ही रहे थे कि चिदंबरम को कभी भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा सकती है और हुआ भी यही.
कांग्रेस ने चिदंबरम मामले में एकजुटता दिखाई और उनके घर पहुचकर उनके साथ राजनीतिक बदले की भावना से हुई कार्यवाही दिखाने की कोशिश की.प्रेस वार्ता में चिदंबरम ने पक्ष रखा कि पूरे मामले में उनके खिलाफ किसी तरह की एफआईआर नही है लेकिन यह बात सीबीआई के लिए महत्वपूर्ण नहीं थी अधिकारियों ने शाम होते ही चिदंबरम के घर को घेर लिया था जहाँ पूर्व गृह मंत्री के साथ उनकी पैरवी के लिए कांग्रेस के कपिल सिब्बल और अभिषेक मनुसंघवी मौजूद थे.
बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल के सामने कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई की खबरें चली रात 9.45 मिनेट पर आखिरकार चिदंबरम को हिरासत में ले लिया गया है और उनको राममनोहर लोहिया अस्पताल में मेडिकल चेकअप के बाद सीबीआई दप्तर में पूछताछ के लिए ले जाये जाने की खबर है.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta. com