Breaking News

Doctor,s Day 1st july 2022 special report:”अग्रिम मोर्चे पर फैमिली डॉक्टर,थीम के साथ Doctor,s Day सेलिब्रेशन आज. डॉ एन एस बिष्ट का विशेष आलेख पढिये @हिलवार्ता Dehradun : धामी सरकार के 100 दिन पूरे, शिक्षा मित्र और अतिथि शिक्षकों का मानदेय बढ़ा,खबर@हिलवार्ता Uttrakhand:हिमांचल की तर्ज पर राज्य में ग्रीन सेस लगाए जाने की जरूरत, बेतहासा पर्यटक,धार्मिक टूरिस्म प्राकृतिक संसाधनों पर भारी,पढ़ें@हिलवार्ता Haldwani : प्रसिद्ध लोक साहित्यकार स्व मथुरा दत्त मठपाल स्मृति दो दिवसीय कार्यशाला 29-30 जून एमबीपीजी में,100 कुमाउँनी कवियों के कविता संग्रह का होगा विमोचन, खबर@हिलवार्ता Uttrakhand : मानसून ने दी दस्तक, राज्य के मैदानी क्षेत्रों में हल्की बारिश के बाद तापमान में गिरावट, मुनस्यारी ने तेज बारिश के बाद सड़क यातायात प्रभावित,खबर@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

कहते हैं ना काल चक्र है और उसके आगे बड़ों बड़ों को धुटने टेकने पड़ते हैं समय लौटता है और जब अपने लपेटे में जब लेता है वह किसी को भी नहीं बख्शता है यही आज पूर्व गृह मंत्री के साथ भी हुआ कभी उनके मातहत आने वाली सीबीआई आज उन्ही के घर पहुच एक सक्षम वकील राजनेता को हिरासत में ले लेती है.
दरसल मामला आईएनएक्स मीडिया से जुड़ा हुआ है सीबीआई के अनुसार एक निजी कंपनी जो कार्ति चिदंबरम के बेटे के नियंत्रण में थी को इंद्राणी मुखर्जी और पीटर मुखर्जी के मीडिया हाउस से पैसे का लेनदेन किया गया जिसमें कार्ति ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए एफडीआई क्लीयरेंस में मदद की थी इस मामले में सीबीआई ने 15 मई 2017 को एफआईआर दर्ज की थी इसके बाद ईडी ने मनी लांड्रिंग का केस दायर किया गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में दिल्ली उच्च न्यायालय से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद सीबीआई अधिकारी मंगलवार को चिदंबरम के दिल्ली स्थित आवास पहुंचे थे लेकिन वहां उनसे मुलाकात नहीं होने पर अधिकारियों ने एक नोटिस चस्पां कर उन्हें दो घंटे में पेश होने का निर्देश दिया.
दो दिन से हाई प्रोफाइल मामले में आज सुप्रीम कोर्ट से आज उनको समय नहीं मिल पाया और सुनवाई के लिए कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करने का समय देते ही सीबीआई और ईडी के दप्तर में हलचल इस ओर संकेत कर ही रहे थे कि चिदंबरम को कभी भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा सकती है और हुआ भी यही.
कांग्रेस ने चिदंबरम मामले में एकजुटता दिखाई और उनके घर पहुचकर उनके साथ राजनीतिक बदले की भावना से हुई कार्यवाही दिखाने की कोशिश की.प्रेस वार्ता में चिदंबरम ने पक्ष रखा कि पूरे मामले में उनके खिलाफ किसी तरह की एफआईआर नही है लेकिन यह बात सीबीआई के लिए महत्वपूर्ण नहीं थी अधिकारियों ने शाम होते ही चिदंबरम के घर को घेर लिया था जहाँ पूर्व गृह मंत्री के साथ उनकी पैरवी के लिए कांग्रेस के कपिल सिब्बल और अभिषेक मनुसंघवी मौजूद थे.
बाहर बड़ी संख्या में पुलिस बल के सामने कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हाथापाई की खबरें चली रात 9.45 मिनेट पर आखिरकार चिदंबरम को हिरासत में ले लिया गया है और उनको राममनोहर लोहिया अस्पताल में मेडिकल चेकअप के बाद सीबीआई दप्तर में पूछताछ के लिए ले जाये जाने की खबर है.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta. com