Breaking News

उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता दुख भरी खबर : जम्मू में उत्तराखंड के दो और जवान शहीद, जम्मू के मेडर में सोमवार से सेना का ऑपरेशन जारी,पूरी खबर@हिलवार्ता हल्द्वानी से बागेश्वर,चंपावत-पिथौरागढ़ जाने वाले यात्री कृपया ध्यान दें,आज से (16 अक्तूबर ) वाया रानीबाग रूट 25 अक्टुबर तक बंद रहेगा,पूरी जानकारी@हिलवार्ता उत्तराखंड : काम की खबर : पंतनगर विश्वविद्यालय और एपीडा में कृषि उत्पादों के उत्पादन, निर्यात के लिए हुआ समझौता,विस्तार से पढ़िए @हिलवार्ता नई शिक्षा नीति 2020 के तहत राज्यों में एक अक्टूबर से शुरू हुआ निष्ठा प्रशिक्षण, यूजीसी द्वारा संचालित टीचर्स ओरिएंटेशन रिफ्रेशर कोर्स की तरह है निष्ठा.आइये समझते हैं @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

गांधी शांति प्रतिष्ठान नई दिल्ली में ऋषीवल्लभ सुंदरियाल विचार मंच, क्रियेटिव उत्तराखंड (म्यर पहाड़) और कृषि चौपाल द्वारा दिवंगत उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी /नेता ऋषिल्लभ सुंदरियाल की पुण्यतिथि पर गोष्ठी का आयोजन किया गया.

प्रतिवर्ष क्रिएटिव उत्तराखंड/म्यर पहाड़ संस्था संघर्षशील व्यक्तियों के पोस्टर जारी करती है इस बार लोकगायक मोहन सिंह रीठागाडी, डॉ शम शेर सिंह बिष्ट,गौरादेवी और परिपूर्णानन्द पैन्यूली के पोस्टर जारी किए गए.
कार्यक्रम में सुश्री आशा नेगी और श्री भुवन ने हुड़के की थाप पर गीत गाकर गांधी प्रतिष्ठान में पर्वतीय संस्कृति को सरोबार किया.कार्यक्रम के दौरान पत्रकार सुरेश नौटियाल,दीवान सिंह नयाल,प्रेम सुंदरियाल,प्रताप शाही,और पत्रकार चारु तिवारी ने विस्तृत बात रखी.
वक्ताओं ने उत्तराखंड के लिए अपना सर्वस्व देने वाले इन नायकों के जीवन पर प्रकाश डाला,और कहा कि जिन लोगों ने पर्वतीय समाज की बेहतरी के लिए अपना जीवन लगा दिया उनको याद किया जाना आवश्यक है इन नायकों ने समाज/संस्कृति की बेहतरी के लिए अथक प्रयास किये,जिस वजह पर्वतीय जीवन मे किसी न किसी रूप में बदलाव की बयार आई. संचालन प्रदीप वेदवाल ने किया. कार्यक्रम में दिल्ली के सैकड़ों अप्रवासी इस अवसर पर मौजूद रहे.

हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta.com