Breaking News

उत्तराखंड: मूसलाधार बारिश से खतरा बढ़ा, कई सड़कें बंद, नदी-नाले उफनाए, पर्यटकों की हुई आफत, दिन भर की अपडेट@हिलवार्ता विशेष रपट: पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी, विशेष श्रद्धांजलि, कल है पूर्व कांग्रेसी नेता का जन्मदिन,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड :महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का प्रदेश भर के स्कूल बंद का आदेश जारी, 18 को सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूल बंद रहेंगे,पढ़िए@हिलवार्ता मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

चंडीगढ़ : आखिरकार पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने इस्तीफा दे ही दिया । पिछले एक साल से चला सियासी ड्रामा अमरेंद्र के इस्तीफे पर जा कर समाप्त होगा अभी कहना जल्दबाजी होगी ।

पंजाब कांग्रेस की खींचतान सिद्धू और अमरेंद्र की तल्खी को पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भी नही सम्हाल सके । हरीश रावत ने भी राज्य में कांग्रेस गुटबाजी की रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष के सामने रख दी थी ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड :महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का प्रदेश भर के स्कूल बंद का आदेश जारी, 18 को सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूल बंद रहेंगे,पढ़िए@हिलवार्ता

माना जा रहा है कि पंजाब कांग्रेस में कैप्टन का गुट कमजोर पड़ रहा था लिहाजा उन्होंने आज फैसला कर लिया कि इस्तीफा दे देना चाहिए । आज शाम उन्होंने राज्यपाल को अपना स्तीफा सौंप दिया ।

यह भी पढ़ें 👉  विशेष रपट: पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी, विशेष श्रद्धांजलि, कल है पूर्व कांग्रेसी नेता का जन्मदिन,पूरी खबर@हिलवार्ता

सूत्रों के अनुसार विगत दिवस कैप्टन द्वारा किसान आंदोलन पर की गई टिप्पणी पर हाईकमान ने संज्ञान लेकर उनसे स्पस्टीकरण भी मांगा गया था । अपने बयान में कैप्टन ने कहा था कि उन्होंने किसान आंदोलन को समर्थन किया था लेकिन अब वह अराजक हो रहा है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: मूसलाधार बारिश से खतरा बढ़ा, कई सड़कें बंद, नदी-नाले उफनाए, पर्यटकों की हुई आफत, दिन भर की अपडेट@हिलवार्ता

अब देखना होगा कि बदली परिस्थिति में पंजाब कांग्रेस की कमान किसे मिलती है । बहरहाल गुटबाजी से जूझ रही कांग्रेस के लिए एकमत से मुख्यमंत्री तय करना टेड़ी खीर जरूर होगी ।

  1. हिलवार्ता न्यूज डेस्क 
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments