Breaking News

उत्तराखंड: मूसलाधार बारिश से खतरा बढ़ा, कई सड़कें बंद, नदी-नाले उफनाए, पर्यटकों की हुई आफत, दिन भर की अपडेट@हिलवार्ता विशेष रपट: पूर्व मुख्यमंत्री स्व नारायण दत्त तिवारी को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने दी, विशेष श्रद्धांजलि, कल है पूर्व कांग्रेसी नेता का जन्मदिन,पूरी खबर@हिलवार्ता उत्तराखंड :महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा का प्रदेश भर के स्कूल बंद का आदेश जारी, 18 को सभी सरकारी गैर सरकारी स्कूल बंद रहेंगे,पढ़िए@हिलवार्ता मौसम अलर्ट: उत्तराखंड में भी भारी बारिश की आशंका, अलर्ट रहने की हिदायत,जारी हुआ हेल्प लाइन नम्बर,पूरी जानकारी @हिलवार्ता उत्तराखंड: विजयादशमी में रावण का पुतला दहन, हल्द्वानी में कोविड 19 के डर के वावजूद हजारों पहुचे रामलीला मैदान,पूरा लाइव देखिये @हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

हल्द्वानी शहर सहित नैनीताल की यातायात व्यवस्था बेकाबू है तमाम तामझाम कोशिशों के वावजूद सड़कें अतिक्रमण से खाली नही रह पा रही है माननीय हाई कोर्ट के आदेश बाद भी मुखानी चौराहा फटेहाल अपनी कहानी बयां कर रहा है 2 माह से सड़क किनारे खाली तो हो गए लेकिन सड़क टूटी है कभी भी कोई हादसा हो सकता है जिनको बैक पेन की शिकायत है उनका चलना दूभर है.पहाड़ों से मैदानी मैदानी इलाकों से पहाड़ की तरफ जाने वाले यात्रियों को 1 से 2 घण्टे जाम में फसने की वजह रेलगाड़ी, और बसें पकड़ने में दिक्कत आम बात हो चुकी है .
तीन पानी तिराहे से काठगोदाम तक सड़क के किनारे फल ठेले यातायात को प्रभावित करते हैं लोग गाड़ी खड़ी कर फल लेने लगते हैं जिससे दुर्घटना की संभावना बनी रहती है यही हाल कालाढुंगी रोड का रामपुर रोड का है कालाढुंगी चौराहे से हनुमान मंदिर और ब्लाक आफिस तक आमतौर पर सैकड़ों ठेले फड़ किसी न किसी तरह दुर्घटना को आमंत्रण दे रहे हैं मंडी में काम करने वाले सचिन जलाल कहते हैं पिछले 5 वर्ष में शब्जी फल के 20 हजार से ज्यादा ठेले बढे हैं . ऊँचापुल निवासी घनश्याम तिवारी कहते हैं कि शहर रहने लायक नही बचा है टेम्पो ठेले पूरा शहर घेर चुके हैं लाल डाँठ निवासी रजनीश कहते हैं जब तक कोई यातायात की वैकल्पिक व्यवस्था नही होती यहां रहना मुश्किल है फल सब्जी के लिए अलग स्थान होना चाहिए जिससे कि व्यवस्थाएं सुचारू हो सकें ।
शहर की स्थिति भांपते हुए चौकी प्रभारी भोटिया पडा़व भगवान सिह मेहर के नेतृत्व में यातायात व्यवस्था को बनाए रखने हेतु भोटिया पड़ाव क्षेत्रान्तर्गत फड़ ठेली वालों के विरुद्ध बीते दिन सघन चेकिंग अभियान चलाया गया दौराने चेकिंग के फड़ ठेली वालों के द्वारा यातायात व्यवस्था को बाधित करने पर *पुलिस एक्ट के अंतर्गत 04 चालान कर संयोजन शुल्क 1000/- रुपए वसूल किया गया तथा यातायात व्यवस्था को दुरुस्त रखने तथा यातायात को बाधित करने वाले वाहनों के विरुद्ध एमवी एक्ट के अंतर्गत 20 चालान कर संयोजन शुल्क ₹5000/- रुपए* वसूल किया गया.
जागरूक लोगों का कहना है कि इस तरह के अभियान नियमित रूप से चलाए जाने की जरूरत है फड़ ठेले वालों को पहले आगाह किया जाए उसके बाद कार्यवाही की जाय जिससे कि सिकुड़ते शहर की यातायात व्यवस्था पर कुछ हद तक काबू किया जाए ।
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@ hillvarta.com