Breaking News

बिग ब्रेकिंग: इंतजार खत्म,अब कभी भी जारी हो सकता है NEET UG Result 2021, सुप्रीम कोर्ट ने एजेंसी को परिणाम घोषित करने की दी छूट,पूरी खबर @हिलवार्ता बड़ी खबर: उत्तराखंड निवासी राष्ट्रीय (महिला) बॉक्सिंग प्रशिक्षक भाष्कर भट्ट को वर्ष 2021 का द्रोणाचार्य अवार्ड मिला,बॉक्सिंग में उत्तराखंड के पहले अवार्डी बने भट्ट,खबर विस्तार से @हिलवार्ता विशेष खबर: अलमोड़ा निवासी अमेरीकी डिजाइन इंजीनियर का मिशन है हर साल गांव आकर पढ़ाना, और गरीब बच्चों को पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद देना,जानिए उनके बारे @हिलवार्ता उत्तराखंड : दो पर्यटक वाहनों की टक्कर में पांच की मौत पंद्रह घायल,दो अलग अलग घटनाओं में एक हप्ते के भीतर 10 बंगाली पर्यटकों की गई जान,खबर विस्तार से @हिलवार्ता उत्तराखंड: नियोजन समिति के चुनाव न कराए जाने पर प्रदेश के जिलापंचायत सदस्य नाराज, एक नवम्बर से काला फीता बांध करेंगे विरोध, और भी बहुत,पढिये@हिलवार्ता
ख़बर शेयर करें -

मुनस्यारी, जिला पिथौरागढ़ में चार सूत्रीय मांगों को लेकर स्थानीय ग्रामीणों ने आज से आमरण अनशन शुरू कर दिया है लंबे समय से ग्रामीण, मोबाईल टावर,शिक्षक,ए.एन.एम.,मोटर मार्ग सुधारने की सरकार से मांग कर रहे थे.

14 जुलाई तक जिलाधिकारी पिथौरागढ़ से आवश्यक कार्यवाही का अल्टीमेटम पर कोई सुनवाई नही होने के बाद ग्रामीण होकरा के पंचायत घर में अनिश्चित कालीन भूख हड़ताल में बैठ गए.भूख हड़ताल में बैठने वालों में 80 साल के पूर्व सैनिक सहित 14 लोग बैठे हैं.आज स्थानीय लोगों के साथ एक दिन उपवास में बैठ जगत मर्तोलिया ने आंदोलन को समर्थन दिया है.मर्तोलिया ने बताया कि खोयम, गौला और होकरा की तीन ग्राम पंचायतों के लोग वर्षों से मांग कर रहे हैं प्रशासन और सरकार को तुरंत उनकी जायज मांगों पर कार्यवाही करनी चाहिए.
आज स्थानीय लोग सुबह से ही पंचायत घर में जमा हुए, लोगों ने सरकार के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी की राजकीय इंटर कॉलेज होकरा में प्रधानाचार्य सहित शिक्षको के खाली पदो पर नियुक्ति कंरने,ए.एन.एम.पद पर स्थायी तैनाती करने,मोबाईल टावर लगाने,मोटर मार्ग का सुधारीकरण करने की मांग के साथ ही भूख हड़ताल शुरु कर दी.

भूख हड़ताल में बैठने वालों में 80 वर्षीय पूर्व सैनिक प्रेम सिंह,होकरा के ग्राम प्रधान सुदंर सिंह मेहता, पूर्व प्रधान जसमल राम, पूर्व सैना हवलदार गंभीर सिंह, मंदिर कमेटी के अध्यक्ष दान सिंह, सरपंच धन सिंह मेहता, पूर्व सैनिक शेर सिंह मेहता, वार्ड सदस्य बाला सिंह, गोपाल सिंह मेहता प्रथम, पूर्व वार्ड सदस्य गुमानी राम, सामाजिक कार्यकर्ता बलवंत सिंह, प्रदीप सिंह मेहता,नेत्र सिंह मेहता, गोपाल सिंह मेहता शामिल हैं.ग्रामीणों द्वारा फूलमालाओं से अनशनकारियों को लाद दिया,और पूर्ण समर्थन देते हुए प्रशासन को दो टूक कहा है कि किसी भी आंदोलनकारी की सेहत खराब होने की जिम्मेदारी सरकार/ स्थानीय प्रशासन /और संबंधित विभागों की होगी.

आंदोलनकारियों के समर्थन में सामाजिक कार्यकर्ता राजू मेहरा,अल्मोड़ा छात्र संघ के पूर्व उपाध्यक्ष हीरा सिंह मेहता, प्रहलाद सिंह मेहता,सुदंर सिंह, जसमल राम , दान सिंह ने अपने विचार रखे , ग्रामीणो के आंदोलन जायज बताते हुए अपना समर्थन जाहिर किया आंदोलन के और तेज होने के आसार हैं.
हिलवार्ता न्यूज डेस्क
@hillvarta. com

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड आपदा ब्रेकिंग :सुन्दरढूंगा क्षेत्र में एसडीआरएफ को मिली सफलता,लापता पांच बंगाली ट्रेकर्स के शव मिले,कलकत्ता भेजे जा रहे हैं शव,पूरी खबर @हिलवार्ता